यूट्यूब देखकर बम बनाना सीखा और फिर लेकर पहुंच गया पुलिस स्टेशन, फिर जो हुआ ... - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र | लाइफ स्टाइल| नया इंडिया|

यूट्यूब देखकर बम बनाना सीखा और फिर लेकर पहुंच गया पुलिस स्टेशन, फिर जो हुआ …

नागपुर |  आज के समय में इंटरनेट लोगों की जरूरत बन गया है. इंटरनेट के बिना शायद ही अब लाइफ स्टाइल मैनेज हो सकती है. लेकिन कई बार देखा गया है कि लोग इंटरनेट की मदद से कुछ गलत चीजों सीख जाते हैं जिससे उनको नुकसान होता है. ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र में रहने वाले युवक के साथ हुआ. राहुल पगाड़े नाक का एक युवक हाथों में एक बैग लिए अचानक से नागपुर के नंदनवन पुलिस स्टेशन पहुंच गया . उसने जब वहां पहुंचकर पुलिसवालों को कहा कि बैग में बम है तो पुलिस थाने में अफरा-तफरी मच गई. बाद में राहुल ने पुलिस को बताया कि ये बैग उसे पास के एक सड़क में पड़ा मिला था. जब उसने बैग को खोलकर देखा तो उसमें बम था इसलिए इसे लेकर सीधे पुलिस स्टेशन पहुंच गया. राहुल की पूरी बात सुनने के बाद पुलिसकर्मियों ने राहत की सांस ली.

सख्त पूछताछ की तो कुछ और ही पता चला

पुलिस स्टेशन में मौजूद पुलिसकर्मियों ने पहले तो राहुल की बात मान ली कि उसे ये बैग कहीं गिरा हुआ मिला है. लेकिन बाद में जब पुलिस कर्मियों ने बैग को जांच के लिए भेजी तो कुछ और भी बात निकलकर आई. बैग की जांच में पता चला कि इसके अंदर जो बम है वो ज्यदा खतरनाक नहीं है और ऐसा लगता है जैसे सीखने के मकसद से इस बम को बनाया गया है. इसके बाद पुलिस ने राहुल को एकबार फिर बुलवाया और सख्त पूछताछ के बाद राहुल ने बम खुद तैयार करने की बात कबूल कर ली. राहुल ने पुलिस को बताया कि ये बम उसने यूट्यूब में वीडियो देखकर बनाना सीखा है.

इसे भी पढें- Ram Mandir News: सोशल मीडिया में BJP को घेरने की कोशिश, इस पूर्व भाजपा नेता ने कहा- राम को भी नहीं छोड़ा…अब क्या बचा? मोदी है तो मुमकिन है….

बम बनाने के बाद डर गया था इसलिए पुलिस को सौंपने पहुंचा था

राहुल ने बताया कु उसका कोई आपराधिक इतिहास नहीं है. राहुल का कहना है कि उसने ये बम किसी को भी आहत करने के इरादे से नहीं बनाचा था. राहुल का कहना है कि उसे बचपन से ही आर्म्स में काफी रूची रही है. यहीं कारण है कि उसे जब यूट्यूब में बम बनाने का वीडियो मिला तो उसने बम बनाने की कोशिश की. लेकिन जब बम बनकर तैयार हो गया तो वो डर गया और वो नहीं चाहता था कि ये किसी और गलत हाथों में चला जाए. इसलिए उसने इसे पुलिस को सौंपने के लिए झूठ बोला. पुलिस भी राहुल के बयान से पूरी तरह संतुष्ट नजर आई और पुलिस वालों का कहना है कि युवक के माता पिता की मौत हो गई है और उसने अपनी 3 बहनों की शादी बड़ी मेहनत से की है उसने सिर्फ जिक्षासा वश बम तैयार किया था.

इसे भी पढें- विश्व रक्तदाता दिवस 2021: कोरोना काल में भी प्लाज़मा डोनेट कर कोरोना मरीजों को दिया जीवनदान

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *