nayaindia Jharkhand MLA reached Ranchi रायपुर से वापस रांची पहुंचे विधायक
देश | झारखंड | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Jharkhand MLA reached Ranchi रायपुर से वापस रांची पहुंचे विधायक

रायपुर से वापस रांची पहुंचे विधायक

रांची। झारखंड में पिछले कई दिनों से चल रही सियासी उठापटक समाप्त नहीं हो रही है। विधानसभा के विशेष सत्र में भी यह अनिश्चितता समाप्त होगी या नहीं, यह नहीं कहा जा सकता है। इस बीच रविवार को जेएमएम और कांग्रेस के विधायक वापस रांची लौटे। छह दिन तक रायपुर के रिसॉर्ट में रहने के बाद महागठबंधन के 30 से ज्यादा विधायक रांची लौटे। खराब मौसम की वजह से उनका विमान 50 मिनट तक आसमान में चक्कर काटता रहा। बाद में मंजूरी मिलने पर विमान को उतारा गया।

हवाईअड्डे पर विधायकों को रिसीव करने के लिए सरकार के दो मंत्री सत्यानंद भोक्ता और मिथिलेश ठाकुर पहुंचे। हवाईअड्डे से तीन बसों में विधायकों बैठकर निकले हैं। रांची में भी सभी विधायकों को बाड़ेबंदी में ही रखा जाएगा। इसके लिए स्टेट गेस्ट हाउस और स्टेट सर्किट हाउस में बुकिंग की गई है। सोमवार को सभी विधायक विधानसभा के विशेष सत्र में शामिल होंगे। इसमें मुख्यमंत्री ने बहुमत साबित करने का फैसला किया है।

हालांकि लाभ के पद के मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सदस्यता पर तलवार लटक रही है। चुनाव आयोग ने अपनी रिपोर्ट राज्यपाल को भेज दी है और राज्यपाल को इस पर फैसला करना है। अगर मुख्यमंत्री की सदस्यता समाप्त हो जाती है तो बहुमत साबित करने की पूरी कवायद का कोई मतलब नहीं रह जाएगा। गौरतलब है कि खदान का पट्टा अपने नाम से लेने के मामले में चुनाव आयोग ने 10 दिन पहले ही राज्यपाल को रिपोर्ट भेजी है, जिस पर उन्होंने कोई फैसला नहीं किया है।

इस बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक बार फिर से भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा को निशाना बनाते हुए कहा- विपक्ष अपनी षड्यंत्रकारी नीतियों में खुद ही फंस जाएगा। उन्होंने कहा- सत्र शुरू होने में कुछ घंटे बाकी है। सत्र के बाद सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है। बहरहाल, सोमवार को विधानसभा का एक दिन का सत्र बुलाया गया है। इसमें सरकार विश्वास मत हासिल करेगी।

अगर विधानसभा के सत्र से पहले राज्यपाल फैसला करते हैं और मुख्यमंत्री को अयोग्य घोषित किया जाता है तब भी इस सत्र का कोई मतलब नहीं रह जाएगा। इस बीच कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम और झामुमो के मुख्य सचेतक नलिन सोरेन ने कहा कि सभी विधायक सत्र में शामिल होंगे। साथ ही यह भी जोड़ा कि कोलकाता में नकदी के साथ पकड़े गए कांग्रेस के तीन विधायकों को पार्टी की ओर से सूचना नहीं दी गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four + fourteen =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
रमेश के बाद राहुल ने किया राउत को फोन
रमेश के बाद राहुल ने किया राउत को फोन