jharkhand mountain goverdhan worship गोवर्धन पर्वत की जैसे करेंगे पहाड़ पूजा
देश | झारखंड | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| jharkhand mountain goverdhan worship गोवर्धन पर्वत की जैसे करेंगे पहाड़ पूजा

Jharkhand : श्रीकृष्ण ने जैसे गोवर्धन पर्वत की पुजा की वैसे ही अब इस राज्य के लोग करेंगे पहाड़ पूजा, 27 जून से शुरु होगा उत्सव

jharkhand mountain goverdhan worship झारखण्ड |  आपको यह तो पता ही होगा कि भगवान श्री कृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को अपनी छोटी उंगली पर उठाया था। उसी समय से गोवर्धन पर्वत को भगवान के रूप में पुजा जाता है। जिस गोवर्धन पर्वत को श्री कृष्ण ने भगवान माना तो यह हमारा सौभाग्य है कि हम उस पर्वत का पूजन करें। इसी कड़ी में झारखण्ड के लोग भी पहाड़ की पुजा करेंगे । तीन राज्य के लोग यहां के पहाड़ो की पुजा करेंगे। पूर्वी सिंहभूम के चाकुलिया में खुशहाली की प्रार्थना के लिए लोग पहाड़ पूजा करेंगे। यह पूजन 27 जून से शुरु होकर 13 जुलाई तक चेलगी। आस्था के केंद्र कान्हाईश्वर पहाड़ का आधा हिस्सा पश्चिमी बंगाल और आधा झारखंड में पड़ता है, इसीलिए यहां दोनों राज्यों से लोग आते हैं, जबकि ओडिशा से सटा होने से वहां से लोग भी इस पूजा में शामिल होते हैं। पहाड़ पुजा करने का एक ही उद्देश्य होता है कि अच्छी बरसात होती रहें और इससे सभी के जीवन में खुशहाली आएं। घाटशिला, मुसाबनी, डुमरिया, धालभूमगढ़ प्रखंड में पहाड़ पूजा की जाती है।

mountain jharkhand

तीन जुलाई को होगी कान्हाईश्वर पहाड़ पूजा

आषाढ़ महीने के तीसरे शनिवार यानी तीन जुलाई को कान्हाईश्वर पहाड़ पूजा होगी। चाकुलिया प्रखंड मुख्यालय के उत्तर जयनगर गांव के पास स्थित इस पहाड़ की दूरी 15 किलोमीटर है। पहाड़ की चोटी पर एक झरना है, जो कभी नहीं सूखता है। यह पहाड़ झारखंड, पश्चिम बंगाल और उड़ीसा के श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। पहाड़ पूजा कमेटी के अध्यक्ष सोमाय मांडी में बताया कि इस साल सादगी से पूजा होगी। यहां 12 मौजा के ग्रामीण पूजा करते हैं। परंतु इस साल इस पुजारी और ग्राम प्रधान ही पूजा करेंगे। कोरोना के कारण इस साल यहां पर केवल पुजारी और ग्राम प्रधान ही पहाड़ का पूजन करेंगे। कोरोना के मामले ना बढ़ें इस कारण यहां कुछ लोग ही पुजन करेंगे। अन्यथा पहाड़ पुजन का बड़ा उत्सव होता है। जितने दिन यह उत्सव रहता है यहां बड़ी मात्रा में लोग इक्कठा होते है। जहां भी पुजा होती है उस समय गांव में मेले का माहौल रहता है।

गोटाशिला पहाड़ पूजा

प्रखंड की मटियाबांधी पंचायत में गोटाशिला पहाड़। यहां भी हर साल आषाढ़ माह में पहाड़ पूजा होती है। यह पूजा भी तीन राज्यों की आस्था का केंद्र है। पूजा स्थल पर एक मंदिर है और एक झरना है। इस साल छह जुलाई को यहां पहाड़ पूजा होगी। ग्राम प्रधान मनिंद्र नाथ महतो ने बताया कि इस साल भी सादगी से पूजा होगी मेला आयोजित नहीं होगा। इस पूजा स्थल की दूरी प्रखंड मुख्यालय से पश्चिम उत्तर दिशा में 16 किलोमीटर है।

27 जून से 13 जुलाई तक चलेगा यह सिलसिला

हालांकि पहाड़ों की पूजा की शुरुआत 27 जून को जामिरा पहाड़ पूजा होगी और इसके बाद 29 जून को सातनाला पहाड़ पूजा होगी। पूजा का सिलसिला 13 जुलाई तक चलेगा। विभिन्न पहाड़ों की पूजा के दौरान हजारों की भीड़ उमड़ती थी और मेला लगता था लेकिन इस ने सभी फीका कर दिया है। पिछले साल से अबतक किसी भी प्रकार का कोई आयोजन नहीं हुआ है। कोरोना ने अपनी काली छाया सभी पर डाली है। इसके चलते लोगों के रोजगार चौपट हो गए है। पिछले साल की तरह इस साल भी सादगी से पूजा होगी। ग्राम प्रधान और पुजारी ही पूजा की रस्म को निभायेंगे।

jharakhand mountain

जामिरा पहाड़

चाकुलिया के बड्डीकानपुर गांव के पास जमीरा पहाड़ है इसी पहाड़ से पुजा की शुरुआत होती और यह पुजा 27 जून को रखी गई है। यह पहाड़ प्रखंड मुख्यालय से उत्तर दिशा में लगभग 15 किलोमीटर दूर है। बड्डी कानपुर से लगभग डेढ़ किलोमीटर पैदल चलकर पूजा स्थल तक लोग पहुंचते हैं। पूजा कमेटी के सदस्य अजय कुमार पातर ने बताया कि पूजा सादगी से होगी

सातनाला

योगी आदित्यनाथ ने धर्मांतरण कराने वालों के खिलाफ दिखाए कड़े तेवर कहा- तह तक जाएं और संपत्ति जब्त करें

प्रखंड की सोनाहातु पंचायत में आमाभुला गांव के पास है सातनाला। यहां साल के जंगल हैं और पहाड़ी है। प्रखंड मुख्यालय से पूजा स्थल की दूरी लगभग सात किलोमीटर है। यहां हर साल 12 मौजा के ग्रामीण पूजा करते हैं। पूजा कमेटी के मनोरंजन महंतो का कहना है कि 29 जून को यहां सादगी से पहाड़ पूजा होगी। यह पुजा का दूसरा स्थान है। जमीरा पहाड़ के बाद सातनाला की पुजा होगी।

खोड़ी पहाड़ी पूजा

गोटाशिला पहाड़ पूजा के बाद प्रखंड क्षेत्र में जुगीतुपा पंचायत में खोड़ी पहाड़ी पूजा ( jharkhand mountain goverdhan worship  ) होती है। सोनाहारा गांव के पास यह पहाड़ी है। खोड़ी पहाड़ी की पुजा इस साल 10 जुलाई को होगी। यहां भी पूजा करने के लिए हजारों भक्तों की भीड़ जुटती है। मेला और संस्कृति कार्यक्रम आयोजित होता है। कमेटी के अमर हांसदा ने बताया कि इस साल सादगी से पूजा आयोजित होगी यहां पर 12 मौजा के ग्रामीण पूजा में शामिल होते हैं। सभी उत्सव और आयोजन की भांति पर्वत पुजा भी बड़ी ही सादगी के साथ होगी।

mountain worship

घोटीडूबा पहाड़ पूजा

प्रखंड की सोनाहातु पंचायत में सोनाहातु गांव के घोटीडूबा टोला में यह पूजा स्थल है। घोटीडूबा पहाड़ ( jharkhand mountain goverdhan worship ) की पुजा 13 जुलाई को होगी। यह पुजा का अंतिम पड़ाव है।  यहां पूजा होने के बाद इस प्रखंड में पहाड़ पूजा का दौर लगभग थम सा जाता है।

जानें पुजा का कार्यक्रम

27 जून- जामिरा पहाड़

29 जून- सातनाला पहाड़

3 जुलाई – कान्हाईश्वर पहाड़

6 जुलाई – गोटाशिला पहाड़ पूजा

10 जुलाई – खोड़ी पहाड़ी पूजा होगी

13 जुलाई – घोटीडूबा पहाड़ पूजा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Katrina Kaif Corona Test Negative : कटरीना कैफ ने कोरोना को दी मात, ध्यान रखने के लिए फैंस का किया धन्यवाद
Katrina Kaif Corona Test Negative : कटरीना कैफ ने कोरोना को दी मात, ध्यान रखने के लिए फैंस का किया धन्यवाद