केजरीवाल ने किया बुद्ध और स्वामी विवेकानंद का स्मरण

नई दिल्ली। भारत सरकार के केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय की देखरेख में शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध परिसंघ, धर्म चक्र दिवस के रूप में आषाढ़ पूर्णिमा मना रहा है। आज ही के दिन महात्मा बुद्ध ने अपने पहले पांच शिष्यों को प्रथम उपदेश दिया था। इस अवसर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने धर्म चक्र की शुभकामनाएं दी।

साथ ही महात्मा बुद्ध द्वारा दी गई अहिंसा की शिक्षा का भी स्मरण किया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “भगवान बुद्ध ने आज ही के दिन अपने शिष्यों को बौद्ध धर्म की सीख देने की शुरुआत की थी। आज हजारों साल बाद भी उनका शांति और अहिंसा का संदेश करोड़ों लोगों को प्रभावित कर रहा है।

धर्म चक्र दिवस के अवसर पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं। पूरी दुनिया के बौद्ध अनुयायी हर साल इसे धर्म चक्र प्रवर्तन दिवस के रूप में मनाते हैं। वहीं, हिंदू धर्म में आज का दिन गुरु के प्रति सम्मान व्यक्त करने का होता है और इसे गुरु पूर्णिमा के रूप में भी मनाया जाता है।

आज के दिन ही स्वामी विवेकानंद की पुण्यतिथि भी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वामी विवेकानंद का स्मरण करते हुए कहा, “युवाओं के प्रेरणा स्रोतऔर दुनिया में भारतवर्ष की महानता और अखंडता का संदेश पहुंचाने वाले स्वामी विवेकानंद जी की पुण्यतिथि पर उन्हें भावपूर्ण नमन।

इससे पहले, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार सुबह राष्ट्रपति भवन में धर्म चक्र दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों का उद्घाटन किया। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजीजू ने भी आयोजित धर्म चक्र दिवस समारोह को संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares