झांसी और आसपास के क्षेत्रों में डेरा जमाए हुए हैं टिड्डी दल

झांसी। किसानों के लिए मुसीबत बना टिङङी दल झांसी शहर एवं निकटतम मध्य प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में अपना डेरा जमाए हुए हैं।

यह दल हालांकि अब बहुत छोटा हो गया है लेकिन अब भी किसानों सहित जिला प्रशासन की मुसीबत कम नहीं हुई है। फिलहाल यह दल झांसी कैंट इलाके से निकटवर्ती मध्य प्रदेश के पृथ्वीपुर इलाके में उड़ता दिखाई दे रहा है।

कृषि विभाग के उप निदेशक (झांसी मंडल) कमल कटियार ने इस संबंध में शुक्रवार को बताया कि फिलहाल सुबह के समय यहाँ हवा का रुख उत्तर पश्चिम की ओर बना हुआ है। ऐसी स्थिति में झांसी के कैंट इलाके से यह दल उड़कर पृथ्वीपुर की ओर जा रहा है लेकिन दोपहर बाद हवा का रुख फिर से दक्षिण पूर्व दिशा की ओर होने की संभावनाओं को देखते हुए इस टिड्डी दल के झांसी के बबीना और बरुआसागर क्षेत्र में आने की आशंका बनी हुई है।

कटियार ने बताया कि इसके अलावा मध्य प्रदेश के शिवपुरी और पिछोर से भी कुछ टिड्डी दल आ सकते हैं। साथ ही यह अनुमान लगाया जा रहा है कि देर शाम तक हवा का रुख बदलने के कारण इनके मध्य प्रदेश के निवाड़ी क्षेत्र में चले जाने की आशंका है। फिलहाल टिड्डी दलों को दिन में भगाने का प्रयास किया जा रहा है तथा रात में उनके विश्राम स्थल पर कीटनाशकों का छिड़काव कर मारने की कोशिशें लगातार जारी हैं।

उन्होंने बताया कि बीती रात भी बड़ी संख्या में इन कीट पतंगों को मारा गया है। इस काम में जिला प्रशासन के साथ कृषि विभाग एवं केंद्रीय दलों के सदस्य सहित दमकलकर्मी भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares