राज्यपाल ने कमलनाथ का इस्तीफा मंजूर किया

भोपाल मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। राज्यपाल ने वैकल्पिक बंदोबस्त होने तक कमलनाथ से कार्यवाहक मुख्यमंत्री के तौर पर काम करते रहने को कहा है। राजभवन से मिली जानकारी के अनुसार राज्यपाल लालजी टंडन को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज राजभवन पहुंचकर पद से त्यागपत्र सौंपा। राज्यपाल ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया और उन्हें नए मुख्यमंत्री के कार्यभार ग्रहण करने तक कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहने के लिए कहा है।

कमलनाथ ने राज्यपाल को अपने इस्तीफे में कहा है मैंने अपने 40 वर्षो के सार्वजनिक जीवन में हमेशा से शुचिता की राजनीति की है और प्रजातांत्रिक मूल्यों को सदा तरजीह दिया है। मध्यप्रदेश में पिछले दो सप्ताह में जो कुछ भी हुआ, प्रजातांत्रिक अवमूल्यन का एक नया अध्याय है। कमलनाथ ने त्याग पत्र में आगे लिखा मैं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद से अपना त्यागपत्र दे रहा हूं। साथ ही नए बनने वाले मुख्यमंत्री को मेरी शुभकामनाएं। मध्य प्रदेश के विकास में उन्हें मेरा सहयोग सदैव रहेगा। कमलनाथ ने इससे पहले आयोजित संवाददाता सम्मेलन में अपनी सरकार द्वारा 15 माह में हासिल की गईं उपलब्धियों को गिनाया। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि किस तरह वह राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के समय से ही उसे गिराने की साजिश रचती रही।

कमलनाथ ने फिर पद से इस्तीफा देने का ऐलान किया और उसके बाद वह अपना इस्तीफा देने राजभवन पहुंचे। गौरतलब है कि कांग्रेस के 22 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई थी। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निर्देश दिया कि मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार शुक्रवार शाम पांच बजे तक विधानसभा में बहुमत साबित करे। अपराह्न् दो बजे फ्लोर टेस्ट शुरू होना था, लेकिन संख्या बल अपने पक्ष में न होने पर कमलनाथ ने इस्तीफा देने का निर्णय लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares