KamalNath Reaction on Pegasus : 'राष्ट्रीय सुरक्षा' के लिए नहीं, बल्कि 'सरकार ..
ताजा पोस्ट | देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| KamalNath Reaction on Pegasus : 'राष्ट्रीय सुरक्षा' के लिए नहीं, बल्कि 'सरकार ..

संसद के बाहर भी गरमाया ‘पेगासस’ का मुद्दा, कमलनाथ ने कहा- ‘राष्ट्रीय सुरक्षा’ के लिए नहीं, बल्कि ‘अपनी सरकार की सुरक्षा’ के लिए लायसेंस खरीदा

नई दिल्ली | KamalNath Reaction on Pegasus : संसद में पेगासस पर हुए हंगामे के बाद से अब संसद के बाहर भी विपक्ष ने सरकार को इस मुद्दे पर घेरना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने पीएम मोदी और केंद्र सरकार पर कड़े हमले किये. उन्होंने कहा कि इस मामले में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को साफतौर पर स्पष्ट करना चाहिए. उन्होंने कहा कि मोदी जी स्पष्ट करें कि इजराइली कंपनी से जासूसी के कार्य में उपयोग होने वाला ‘पेगासस’ का लायसेंस खरीदा है या नहीं. पूर्व मुख्यमंत्री ने यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि पेगासस मामले में केंद्र सरकार सीधा जवाब दे. साथ ही केंद्र सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि उसने पेगासस लायसेंस राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर खरीदा है या फिर अपनी सरकार की सुरक्षा के लिए.

दावे के साथ कहा पेगासस का लायसेंस खरीदा

KamalNath Reaction on Pegasus : कमलनाथ ने दावे के साथ कहा कि केंद्र सरकार ने पेगासस का लायसेंस खरीदा है और इसका उपयोग प्रमुख लोगों की जासूसी कराने के लिए हुआ है. वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा कि पेगासस मामले में केंद्र सरकार और उससे जुड़े जिम्मेदार लोगों को गोलमोल जवाब देने की बजाए स्पष्ट उत्तर देकर जांच की पहल करना चाहिए. उन्होंने संकेत दिए कि आने वाले समय में इस मामले में और खुलासे होंगे.

इसे भी पढें- True Love : “मां” बनने के लिए Gujarat High Court पहुंची महिला, कहानी सुनकर आप भी नहीं रोक पाएंगे अपनी आंसू…

देश की महंगाई पर भी जताई चिंता

श्री कमलनाथ ने बढ़ती महंगायी पर भी चिंता जाहिर की और कहा कि आर्थिक गतिविधियां ठप होने से नौजवानों के समक्ष रोजगार के संकट आ गए हैं. इसके लिए उन्होंने केंद्र की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि महंगायी के कारण मध्यम वर्गीय गरीब हो रहा है और गरीब की स्थिति और दयनीय होती जा रही है. उन्होंने कहा कि वास्तव में रोजगार के अवसर मुहैया कराने के लिए आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने की आवश्यकता है.

इसे भी पढें- उत्तराखंड में स्कूल खोलने को लेकर क्या है सरकार का प्लान, जानें क्या है शिक्षामंत्री की नई रणनीति…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
शिवपाल और ओवैसी की मुलाकात, यूपी में नए समीकरण के संकेत
शिवपाल और ओवैसी की मुलाकात, यूपी में नए समीकरण के संकेत