महाराष्ट्र : पार्टी से निष्कासित किए जा सकते हैं भाजपा के बागी

मुंबई। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक शीर्ष नेता ने कहा कि पार्टी की राज्य इकाई की कोर कमेटी की बैठक में निर्णय लिया गया कि पार्टी के हित के खिलाफ कार्य करने वालों को ‘निष्कसित’ किया जा सकता है।

पूर्व मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि बैठक में एकनाथ खडसे व पंकजा मुंडे जैसे नेताओं से बातचीत का फैसला भी लिया गया है, जो बीते कुछ हफ्तों से विभिन्न कारणों से नाराज हैं, जिससे भाजपा की परेशानी बढ़ी है।

मुनगंटीवार ने कहा कि खडसे ने कुछ लोगों से जुड़े साक्ष्य जमा किए हैं, जिन्होंने बीते विधानसभा चुनाव में पार्टी के हितों के खिलाफ कार्य किया है, जिस पर ध्यान दिया जाएगा और इस तरह के लोगों के दोषी पाए जाने पर उन्हें निष्कासन का सामना करना पड़ सकता है। गौरतलब है कि बीते हफ्ते खडसे ने मुंडे से मुलाकात की और बाद में मीडिया के समक्ष दावा किया कि कुछ लोगों ने पार्टी उम्मीदवारों के खिलाफ कार्य किया है, जैसे रोहिणी खडसे व (पंकजा) मुंडे के खिलाफ, जो अक्टूबर में विधानसभा चुनाव हार गईं।

12 दिसंबर को दिवंगत केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे की याद में आयोजित होने वाली रैली से पहले मंगलवार को बीड में एक बार फिर से दोनों की लंबी बैठक हुई। खडसे ने कहा कि वह कोर कमेटी के सदस्य नहीं है और न ही उन्हें आमंत्रित किया गया, जबकि मुंडे भी पार्टी नेतृत्व को सूचित करने के बाद बैठक से अनुपस्थित रहीं।

यह बैठक मंगलवार देर रात हुई, जिसमें पार्टी के महाराष्ट्र विधानमंडल के आगामी शीतकालीन सत्र के मद्देनजर रणनीति को लेकर चर्चा की गई। कोर कमेटी की बैठक में राज्य इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील, विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस, मुनगंटीवार, आशीष शेलार, कई पूर्व मंत्री और अन्य प्रमुख नेता शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares