Mamta met Modi raised the issue of BSF मोदी से मिलीं ममता, बीएसएफ
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया| Mamta met Modi raised the issue of BSF मोदी से मिलीं ममता, बीएसएफ

मोदी से मिलीं ममता, बीएसएफ का मुद्दा उठाया

नई दिल्ली। चार दिन के दिल्ली दौरे पर आईं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार की शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलीं। उन्होंने प्रधानमंत्री से मुलाकात में सीमा सुरक्षा बल यानी बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र बढ़ाए जाने का मुद्दा उठाया और त्रिपुरा में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर हुए कथित हमलों के बारे में भी बात की। प्रधानमंत्री से मिलने के बाद उन्होंने कहा कि बड़ी राजनीतिक टिप्पणी की और कहा कि वे चाहती हैं कि उत्तर प्रदेश में भाजपा हारे। ममता ने कहा कि अगर भाजपा को हराने के लिए अखिलेश यादव उनकी मदद चाहेंगे तो वे इसके लिए तैयार हैं।

Read also दिल्ली में 29 से खुलेंगे स्कूल, कॉलेज

ममता बनर्जी बुधवार की शाम पांच बजे प्रधानमंत्री मोदी से मिलीं। मोदी से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा- मैंने राज्य से जुड़े कई मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा की। मैंने बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र के विस्तार के मुद्दे पर भी उनसे बात की और इस फैसले को वापस लेने की मांग की। ममता ने राज्य के विकास के विभिन्न मुद्दों के अलावा त्रिपुरा में हिंसा के मामले पर भी चर्चा की। उन्होंने आरोप लगाया है कि त्रिपुरा में बिप्लब देब की सरकार सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का उल्लंघन कर रही है।

प्रधानमंत्री से मिलने के बाद ममता ने कहा- राज्य के मुद्दों को लेकर मैं पीएम से मिली हूं। कई बार तूफान आए, आपदा आई। रुपया नहीं मिलेगा तो राज्य कैसे चलेगा? बीएसएफ के मसले पर उन्होंने कहा- संघीय ढांचे को लेकर बात की। बीएसएफ को ज्यादा पावर देने से कानून व्यवस्था का मामला होता है। कई बार बॉर्डर में गोली चलाने से लोगों की मौत हो जाती है। अगर राज्य से मदद चाहिए तो बताएं। संघीय ढांचे को बचाने की जरूरत है। उन्होंने कहा- बीएससफ के आदेश को वापस लिया जाना चाहिए।

Read also Congress मजबूत सीएम को नहीं करता बर्दास्त, कैप्टन अमरिंदर बोले-अगला नंबर गहलोत का…

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- हमने कोरोना वैक्सीन को लेकर बात की। 12 से 18 साल की उम्र के किशोरों के वैक्‍सीनेशन को लेकर बात हुई। जूट इंडस्ट्री को लेकर बात की। अब किसान जूट बेच नही सकते, पीएम से आग्रह किया कि जो कैप बनाया गया है उसको खत्म करें। केंद्र के साथ पश्चिम बंगाल सरकार के संबंध को लेकर ममता ने कहा- हमारे और आपके बीच राजनीतिक मतभेद हों इसका असर विकास पर नहीं पड़ना चाहिए। हमने अगले वर्ष अप्रैल में होने वाली बिजनेस समिट के उद्घाटन के लिए पीएम को आमंत्रित किया है, जिसे उन्‍होंने स्वीकार किया है।

ममता ने अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कहा- हम चाहते हैं यूपी में बीजेपी हारे। सपा प्रमुख अखिलेश यादव अगर मदद चाहते है तो हम तैयार हैं। एक दूसरे सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा- हम चाहते हैं न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर कानून बने। अपनी प्रस्‍तावित मुंबई यात्रा को लेकर उन्होंने कहा कि 30 को वे मुंबई जाएंगी तो उद्धव ठाकरे और शरद पवार से मिलेंगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Kanpur Test : कोच द्रविड़ ने कहा-पारी जल्दी घोषित करने के कारण नहीं बल्कि यहां बदल गया मैच…
Kanpur Test : कोच द्रविड़ ने कहा-पारी जल्दी घोषित करने के कारण नहीं बल्कि यहां बदल गया मैच…