nayaindia इजराइल का दावा, कोरोना संक्रमण को दी मात, अब मास्क पहनना जरूरी नहीं! - Naya India
ताजा पोस्ट | विदेश| नया इंडिया|

इजराइल का दावा, कोरोना संक्रमण को दी मात, अब मास्क पहनना जरूरी नहीं!

नई दिल्ली। दुनिया में कोरोना के कहर के बीच इजराइल ने बड़ा दावा करते हुए कोरोना को हराने का ऐलान किया है। इजरायल का दावा है कि उसने सार्वजनिक स्थानों पर मास्क की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है। देश में पहले की तरह सबकुछ सामान्य हो गया है। स्कूल और कॉलेज फिर से खोल दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें :- Corona : महामारी और रोजी रोटी की जंग में हारा प्रवासी मजदूर, घर वापसी करने पर मजबूर

इजराइल के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, सफल टीकाकरण के कारण मरीजों की संख्या में बहुत कमी आ गई है। ऐसे में अब जनता पर लगाए गए प्रतिबंधों को और भी कम करने पर चर्चा जारी है। प्रतिबंधों की कमी की शुरुआत में घर के बाहर मास्क पहनने की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री यूली एडेलस्टीन ने इजराइल में घर के बाहर मास्क पहनने की अनिवार्यता को समाप्त करने की घोषणा की। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एडेलस्टीन ने एक बयान में कहा कि उन्होंने प्रतिबंध को रद्द करने के आदेश पर हस्ताक्षर करने का निर्देश दिया है। आपको बता दें कि इजरायल ने कोरोना महामारी की शुरूआत के एक महीने बाद ही घर के बाहर फेस मास्क पहनने को अनिवार्य कर दिया था। फेस मास्क नहीं पहनने पर भारी जुर्माने का प्रावधान था।

इसराइल में लोग कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए डिजिटल माध्यम का सहारा ले रहे हैं। लोग एप के जरिए अपॉइंटमेंट बुक कर रहे हैं। ऐसे में प्रत्येक नागरिक के लिए पूर्ण डिजिटल रिकॉर्ड है, स्वास्थ्य रख रखाव संगठन और स्वास्थ्य सेवा प्रदाता के लिए सुलभ है। इस सेवा प्रणाली को लोगों के लिए काफी आसान बनाया है। इससे कोरोना को मात देने में काफी फायदा हुआ है। कोरोना वैक्सीन के लिए लंबी कतारें दिखाई नहीं देती और लोग एप के माध्यम से अपॉइंटमेंट बुक कर वैक्सीन लगावा रहे हैं। एक बार जब टीका लगाया गया तो टीकाकरण आईडी डिजिटल रूप से विशेष एप में लोड हो जाती है। जिसके बाद ‘ग्रीन पास’ प्राप्त हो जाता हैं।

ये भी पढ़ें :- Delhi Lockdown: सीएम केजरीवाल के एलान के बाद राशन नहीं शराब का स्टॉक रखने की  दिखी होड़ 

इस ग्रीन पास का उपयोग सिनेमाघरों या सांस्कृतिक कार्यक्रमों जैसे सार्वजनिक स्थानों पर शामिल होने के लिए टीकाकरण के प्रमाण के रूप में उपयोग किया जा रहा है। लोग किसी भी समय फोन पर अपना ग्रीन पास दिखा सकते हैं। इसलिए कही भी आने-जाने के लिए कागजी प्रमाण पत्र या कार्ड की कोई जरूरत नहीं रह गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

eleven − five =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
चुप्पी की कूटनीति
चुप्पी की कूटनीति