nayaindia Mithali Raj Retirement : मिताली राज ने सन्यास की घोषाणा के बाद कहा....
खेल समाचार | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Mithali Raj Retirement : मिताली राज ने सन्यास की घोषाणा के बाद कहा....

मिताली राज ने सन्यास की घोषाणा के बाद कहा- इस खेल से जुड़ी रहना चाहुंगी…

Mithali Raj Retirement :
Image Source : Twitter

नई दिल्ली | Mithali Raj Retirement : लंबे समय तक भारतीय महिला क्रिकेट टीम के साथ रहने वाली  कप्तान मिताली राज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया है. उन्होंने बुधवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक पत्र साझा करते हुए इसकी घोषणा की. मिताली ने पत्र में लिखा कि मैंने एक छोटी बच्ची के रूप में भारत की जर्सी पहनने का सफ़र शुरू किया था. यह सफ़र ऊंच-नीच से भरा रहा. इस सफ़र की हर घटना ने मुझे कुछ नया सिखाया, और पिछले 23 साल चुनौतीपूर्ण और सुखद रहे. उन्होंने कहा कि हर सफ़र की तरह, इसका भी अंत होना है. आज मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के हर प्रारूप से सन्यास लेती हूं.

भारतीय महिला क्रिकेट का भविष्य उज्ज्वल…

Mithali Raj Retirement : बता दें कि मिताली ने 1999 में 16 साल की उम्र में भारत के लिए खेलना शुरू किया था. इसके बाद से वे लगातार क्रिकेट से जुड़ी रहीं. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि मैंने जब भी फ़ील्ड पर कदम रखा, मैंने भारत को जिताने के इरादे से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया. तिरंगे का प्रतिनिधित्व करने के लिए मुझे जो अवसर मिला है, मैं उसे हमेशा संजो कर रखूंगी. मेरे अनुसार अब अपने करियर पर विराम देने का सही समय आ गया है, क्योंकि टीम कुछ बहुत ही प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के सक्षम हाथों में है और भारतीय क्रिकेट का भविष्य उज्ज्वल है.

इसे भी पढें- डीप नैक ब्लैक एंड वाइट बॉडीकॉन में Priyanka Chopra बनी अप्सरा

क्रिकेट के साथ जुड़ी रहनी चाहुंगी…

Mithali Raj Retirement : मिताली ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और बोर्ड के सचिव जय शाह को उनके समर्थन के लिये धन्यवाद दिया और कहा कि इतने सालों तक टीम की अगुवाई करना सम्मान की बात थी. मिताली ने क्रिकेट के साथ अपने भविष्य के बारे में कहा कि यह सफ़र भले ही ख़त्म हो गया हो लेकिन एक और सफ़र मुझे बुलाता है. मैं उस खेल के साथ जुड़ी रहना चाहुंगी जिससे मैं प्यार करती हूं और भारत एवं विश्व भर में महिला क्रिकेट के विकास में योगदान देना चाहूंगी. मिताली ने अपने सभी प्रशंसकों के प्यार और समर्थन के लिये धन्यवाद देते हुए पत्र का अंत किया. मिताली ने 12 टेस्ट, 232 एकदिवसीय और 89 टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में भारत का प्रतिनिधित्व किया और एक कप्तान के तौर पर भारत को दो विश्व कप के फाइनल में भी पहुंचाया है.

इसे भी पढें-शिल्पा शेट्टी कुंद्रा के 47वे जन्मदिन का सेलिब्रेशन देखे वीडियो

Leave a comment

Your email address will not be published.

20 + 8 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अधिकारियों पर सरकार का अविश्वास!
अधिकारियों पर सरकार का अविश्वास!