nayaindia celebrations of Bihar Assembly बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में शामिल हुए मोदी
ताजा पोस्ट | देश | बिहार| नया इंडिया| celebrations of Bihar Assembly बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में शामिल हुए मोदी

बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में शामिल हुए मोदी

पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को बिहार विधानसभा के शताब्दी वर्ष के समापन कार्यक्रम में शामिल हुए। इस मौके पर उन्होंने शताब्दी स्मृति स्तंभ का उद्घाटन किया। इसे बिहार के प्रतीक चिन्ह के रूप में विधानसभा परिसर में लगाया गया है। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर बिहार के गौरवशाली इतिहास को याद किया और साथ ही यह भी कहा कि बिहार क्रांति और क्रांतिकारियों की धरती है। इससे पहले पटना पहुंचने पर हवाईअड्डे पर राज्यपाल फागू चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनका स्वागत किया।

गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं, जो बिहार विधानसभा के परिसर में पहुंचे। प्रधानमंत्री मोदी ने विधानसभा परिसर में कल्पतरू का पौधा लगाया। राज्यपाल फागू चौहान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा, सभापति अवधेश नारायण सिंह, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी आदि के साथ प्रधानमंत्री पूरे परिसर में घूमे। इससे पहले तीन राष्ट्रपति- एपीजे अब्दुल कलाम, प्रतिभा पाटिल और रामनाथ कोविंद यहां आ चुके हैं।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा- शताब्दी स्मृति स्तंभ बिहार के गौरवशाली अतीत का प्रतीक तो बनेगा ही, साथ ही ये बिहार की कोटि-कोटि आकांक्षाओं को भी प्रेरणा देगा। उन्होंने कहा- बिहार का ये स्वभाव है कि जो बिहार से स्नेह करता है, बिहार उसे वो प्यार कई गुना करके लौटाता है। आज मुझे बिहार विधानसभा परिसर में आने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री होने का सौभाग्य भी मिला है। मैं इस स्नेह के लिए बिहार के जन-जन को हृदय से नमन करता हूं।

प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार को क्रांति की धरती बताते हुए कहा- आजादी के बाद इसी विधानसभा में जमींदारी उन्मूलन कानून पास हुआ। इसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए, नीतीश जी की सरकार ने बिहार पंचायती राज जैसे अधिनियम को पास किया। इस अधिनियम के जरिए बिहार पहला ऐसा राज्य बना, जिसने पंचायती राज में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 13 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे से विवाद में फंसी यात्रा
‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे से विवाद में फंसी यात्रा