नोएडा की एनआईसीपीआर लैब का मोदी करेंगे वर्चुअल उद्घाटन

गौतमबुद्धनगर (उप्र)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जुलाई को वीडियो कॉन्फ्रें सिंग के माध्यम से नोएडा में आईसीएमआर की नई उच्च क्षमता वाली प्रयोगशालाओं का उद्घाटन करेंगे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस वर्चुअल कार्यक्रम में हिस्सा ले सकते हैं।

नोएडा स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेंशन एंड रिसर्च (एनआईसीपीआर) में आरटी-पीसीआर लैब का उद्घाटन होगा। जिले में इस लैब के उद्घाटन के बाद प्रतिदिन 6 हजार से ज्यादा कोरोना जांच हो सेकेंगी।

उद्घाटन कार्यक्रम को लेकर जब जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. से बात की तो उन्होंने कहा, “हां, प्रधानमंत्री मोदी 27 जुलाई को लैब का उद्घाटन करने जा रहे हैं। तैयारी की जा रही है। आईसीएमआर के पीआरओ लोकेश ने बताया, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेंशन एंड रिसर्च की नई लैब कोविड डेडिकेटेड लैब होगी। इसमें रोजाना 6000 से 10000 तक कोविड जांच हो सकेगी।

शनिवार को नोएडा में प्लाज्मा बैंक का उद्घाटन करने आए प्रदेश के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने लैब की स्थापना के लिए स्वास्थ्य अधिकारियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस लैब से पश्चिमी उत्तर प्रदेश सहित दिल्ली एनसीआर के लोगों को फायदा होगा।

फिलहाल जिले में आईसीएमआर से मान्यता प्राप्त पांच लैबों में कोरोना जांच होती है। इनमें सेक्टर-62 स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोलॉजी (एनआईबी), कासना स्थित राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स), सेक्टर-30 स्थित चाइल्ड पीजीआइए, सेक्टर-128 स्थित जेपी हॉस्पिटल व ग्रेटर नोएडा स्थित शारदा अस्पताल और लाल पैथ लैब शामिल हैं। इसके अलावा जिले के अन्य निजी अस्पताल व पैथोलॉजी लैब में सैम्पल लेकर मान्यता प्राप्त लैब में जांच के लिए भेजा जाता था। इन लैबों में प्रतिदिन 2000 से अधिक सैम्पल जांच की क्षमता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares