ताजा पोस्ट

Monsoon 2021: राजस्थान में जून के अंत में दस्तक देगा मानसून, आज भी बारिश होने के अनुमान लगाये जा रहे

जयपुर. बहुप्रतिक्षित मानसून (Mansoon) ने देश में प्रवेश कर लिया है। केरल के दक्षिणी हिस्से में दस्तक देने के बाद अब मानसून के जून माह के अंत तक राजस्थान में पहुंचने की संभावना है। राजस्थान (Rajasthan) में पिछले कुछ दिनों से विक्षोभ का असर देखने को मिल रहा है। इसके कारण मौसम में बदलाव का दौर जारी है। पिछले कुछ दिनों से राजस्थान में मौसम सुहावना हो रहा है। कुछ हिस्सों में बारिश और तेज आंधी हुई थी।  राजस्थान में पिछले 24 घंटों में राज्य के कुछ भागों में आंधी और बारिश दर्ज की गई। इस दौरान सर्वाधिक 60 मिलीमीटर बारिश पश्चिमी राजस्थान में जोधपुर जिले के शेरगढ़ दर्ज की गई है। जबकि पूर्वी राजस्थान में सीकर के रामगढ़ में 43 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। इनके अलावा प्रदेश के कई इलाकों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हुई है।

 

इसे भी पढ़ें Pm Modi ने एक बार फिर सबको चौंकाया, छात्र-छात्राओं की खुशियों का नहीं रहा ठिकाना

आज हो सकता है मौसम में बदलाव

मौसम विभाग के अनुसार आज एक फिर पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर, गंगानगर, चूरू, हनुमानगढ़, नागौर, जैसलमेर, बाड़मेर, जालोर, पाली और जोधपुर जिलों के कुछ भागों में तेज अंधड़ आने की संभावना है। इस अंधड़ की गति 40 से 50 किलामीटर प्रति घंटा रह सकती है। इसके साथ ही इन इलाकों में बारिश होने की भी प्रबल संभावना है। आज सुबह से मौसम में नरमी है। मौसम सुहावना होता देखा जा रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक आज भी राजस्थान में मौसम बदल सकता है और बारिश की भी संभावना है।

राजस्थान में जारी है पश्चिम विक्षोभ का असर

मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में पश्चिम विक्षोभ का असर जारी है। इसके कारण पूर्वी राजस्थान के उदयपुर, कोटा, अजमेर और जयपुर संभाग के कुछ जिलों में मध्यम दर्जे का थंडर स्टॉर्म आ सकता है। इस दौरान अचानक तेज हवाओं के साथ कहीं कहीं बारिश भी हो सकती है। मौसम विभाग की मानें तो आंधी बारिश का यह दौर आगामी तीन-चार दिन जारी रहेगा। हालांकि 5 जून से आंधी बारिश की गतिविधियों की तीव्रता में कुछ कमी होने की संभावना है। इस दौरान तापमान औसत से नीचे रहने की संभावना है।

Latest News

दुशांबे में वे यह मौका क्यों चूके ?
ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में हुई शांघाई सहयोग संगठन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक काफी सार्थक रही। सबसे पहली बात तो…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट

Unnao rape case 2017 : गैंगरेप पीड़िता की मांग के बाद BJP ने बदला अपनी प्रत्याशी, अरूण सिंह की जगह अब शकुन सिंह को टिकट

Unnao rape case 2017

उन्नाव | Unnao rape case 2017 : उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से उन्नाव रेप केस सुर्खियों में आ गया. भाजपा को जिला पंचायत चुनाव अरुण सिंह को प्रत्याशी बनाने का फैसला वापस लेना पड़ा है. बता दें कि 2 दिन पहले ही अरुण सिंह को प्रत्याशी के तौर पर भाजपा ने मैदान में उतारा था. असमंजस की स्थिति झेलने के बाद भाजपा ने अपना यह फैसला वापस ले लिया. अब उत्तर प्रदेश भाजपा ने अरुण सिंह की जगह शकुन सिंह को भाजपा का नया प्रत्याशी घोषित किया है. बता दें कि शकुन सिंह पूर्व एमएलए स्वर्गीय अजीत सिंह की पत्नी हैं. पिछले कई दिनों से उन्नाव में जिला पंचायत अध्यक्ष सीट पर भाजपा के प्रत्याशी को लेकर विवाद हो रहा था. बुधवार की देर रात अरुण सिंह को प्रत्याशी भी घोषित कर दिया गया. लेकिन बाद में अरुण सिंह के नाम को निरस्त कर दिया गया.

Unnao rape case 2017

गैंगरेप पीड़िता ने किया था विरोध

Unnao rape case 2017: उन्नाव की गैंगरेप पीड़िता का सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा था. इस वीडियो में पीड़िता अरुण सिंह के प्रत्याशी बनाए जाने पर सवाल खड़े कर रही थी. इस वायरल वीडियो में गैंगरेप पीड़िता भाजपा से सवाल पूछते नजर आ रही है कि भाजपा सरकार बताए कि वो उसके साथ है या कुलदीप सिंह सेंगर के . सोशल मीडिया में यह वीडियो तेजी से वायरल हो गया. दो ही दिनों में इस वीडियो को हजारों लोगों ने देखा और शेयर भी करना शुरू कर दिया. इस वीडियो में पीड़िता ने भाजपा सरकार से पूछा कि जिसने उसके पूरे परिवार को बर्बाद कर दिया उसे भाजपा टिकट कैसे टिकट दे सकती है.

इसे भी पढें- UP Conversion ATS Raid : धर्मांतरण मामले में जाकिर नाइक से भी जुड़े हैं तार, मलेशिया अधिकारियों से बात कर रही है सरकार

भाजपा ने बताया था अपने प्रत्याशी को साफ सुुथरा

पीड़िता के आरोपों के बाद कॉन्फ्रेंस करते हुए बीजेपी के जिला अध्यक्ष राजकिशोर रावत में अरुण सिंह को प्रत्याशी बनाकर उन्हें क्लीन चिट दे दी. इसके साथ ही अध्यक्ष ने यह भी कहा था कि हमारा प्रत्याशी साफ सुथरा है और ऐसा कुछ नहीं है. लेकिन बाद में भाजपा ने यू टर्न लेते हुए अरुण सिंह के प्रत्याशी बनाने के फैसले को निरस्त कर दिया और उनकी जगह शकुन सिंह को प्रत्याशी घोषित कर दिया. बता दें कि कुलदीप के साथ ही अरूण सिंह ने भी गंभीर आरोप लगाए थे.

इसे भी पढें- कोरोना काल में स्कूल से वेतन ना मिलने के कारण ताइक्वांडो कोच ने की आत्महत्या

Latest News

aaदुशांबे में वे यह मौका क्यों चूके ?
ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में हुई शांघाई सहयोग संगठन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक काफी सार्थक रही। सबसे पहली बात तो…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *