monsoon session Pegasus case जासूसी कांड पर हंगामा जारी
ताजा पोस्ट | समाचार मुख्य| नया इंडिया| monsoon session Pegasus case जासूसी कांड पर हंगामा जारी

जासूसी कांड पर हंगामा जारी, हंगामे के बीच सरकार ने चार विधेयक पास कराए

Parliament adjourned for the second day :

monsoon session Pegasus case नई दिल्ली। संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे हफ्ते के तीसरे दिन बुधवार को भी पेगासस जासूसी मामले पर विपक्षी सांसदों ने हंगामा किया, जिसकी वजह से दोनों सदनों में कामकाज बाधित हुआ। कई बार के स्थगन के बाद दोनों सदनों की कार्यवाही गुरुवार सुबह तक के लिए स्थगित कर दी गई। इससे पहले 18 विपक्षी पार्टियों ने एक बयान जारी किया, जिससे में पेगासस जासूसी मामले और केंद्रीय कृषि कानूनों के मसले पर संसद में चर्चा कराने की मांग की गई है। हंगामे के बीच ही सरकार ने दोनों सदनों में चार विधेयक पास कराए।

Read also तृणमूल के छह सांसद निलंबित

दोनों सदनों में विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यसभा में 40 मिनट के भीतर लिमिटेड लिबर्टी पार्टनरशिप अमेंडमेंट बिल, 2021 और डिपॉजिट इंश्योरेंस और क्रेडिट गारंटी बिल, 2021 पास हुआ। इससे पहले इस सदन में एयरपोर्ट्स इकोनॉमिक रेगुलेटरी अथॉरिटी अमेंडमेंट बिल, 2021 भी पारित हुआ। वहीं, लोकसभा में कोकोनट डेवलपमेंट बोर्ड अमेंडमेंट बिल, 2021 पास हुआ। इससे पहले भी सरकार ने इस सत्र के दौरान हंगामे के बीच कई विधेयक पास कराए हैं।

Read also संसद परिसर में भिड़े बिट्टू और बादल

बहरहाल, बुधवार को 14 विपक्षी पार्टियों के 18 नेताओं ने एक संयुक्त बयान जारी किया। इसमें संसद में पेगासस जासूसी कांड और कृषि कानूनों पर चर्चा की मांग की गई। इसमें कहा गया कि संसद में गतिरोध के लिए सरकार जिम्मेदार है, सरकार विपक्ष पर आरोप लगाकर गुमराह करने की कोशिश कर रही है। इसमें यह भी कहा गया कि पूरा विपक्ष एकजुट है और संसद के दोनों ही सदनों में गृह मंत्री से पेगासस मामले पर जवाब चाहता है, क्योंकि यह एक राष्ट्रीय सुरक्षा का मसला है। गौरतलब है कि इससे पहले यह खबर आई थी कि विपक्ष के साथ सरकार की सुलह हो गई है और गुरुवार को सदन में कामकाज होगा।

पेगासस जासूसी मामले पर लोकसभा में चर्चा के लिए कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी और मणिकम टैगोर ने काम रोको प्रस्ताव भेजा। इसी मुद्दे पर तृणमूल कांग्रेस के सांसद सुदीप बंदोपाध्याय ने भी काम रोको प्रस्ताव दिया। वहीं, कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों पर चर्चा के लिए काम रोको प्रस्ताव का नोटिस दिया है। monsoon session Pegasus case

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow