nayaindia successful Olympics for India भारत के लिए सबसे सफल ओलंपिक
खेल समाचार | ताजा पोस्ट | समाचार मुख्य| नया इंडिया| successful Olympics for India भारत के लिए सबसे सफल ओलंपिक

भारत के लिए सबसे सफल ओलंपिक, नीरज ने मिल्खा को समर्पित किया पदक

successful Olympics for India टोक्यो। पदकों की संख्या के लिहाज से टोक्यो ओलंपिक भारत का सबसे सफल ओलंपिक बन गया है। भारत को इस मुकाबले में एक स्वर्ण के साथ कुल सात पदक मिले हैं। शनिवार को भारत के सारे मुकाबले पूरे हो गए और ओलंपिक की समाप्ति से एक दिन पहले भारत सात पदक के साथ पदक तालिका में 47वें स्थान पर था। 38 स्वर्ण के साथ चीन पहले स्थान पर और 36 स्वर्ण पदक के साथ अमेरिका दूसरे स्थान पर था।

बहरहाल, भारत का यह अब तक का सबसे सफल ओलंपिक बन गया है। भारत ने इसमें एक स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य सहित कुल सात पदक जीते हैं। इससे पहले 2012 लंदन ओलंपिक में भारत ने छह मेडल जीते थे। ओलंपिक में 13 साल बाद भारत को किसी इवेंट में गोल्ड मेडल मिला है। इससे पहले 2008 में बीजिंग ओलंपिक निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने गोल्ड जीता था। बिंद्रा ने 10 मीटर एयर राइफल इवेंट का गोल्ड अपने नाम किया था।

Read also नीरज चौपड़ा ने सुनहरा कर दिया भारत का ओलंपिक इतिहास, 121 साल बाद आया एथलेटिक्स में पदक, पहला गोल्ड जीतने वाले भारतीय बने

एक साल की देरी से हुए टोक्यो ओलिंपिक में भारत ने सात मेडल जीत लिए हैं। नीरज चोपड़ा के स्वर्ण के अलावा मीराबाई चानू ने वेटलिफ्टिंग में रजत, पीवी सिंधु ने बैडमिंटन में कांस्य और लवलिना बोरगोहेन ने मुक्केबाजी में कांस्य पदक जीता है। इसके अलावा भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने भी कांस्य जीता है। कुश्ती में रवि दहिया ने रजत पदक और बजरंग पुनिया ने शनिवार को कांस्य पदक जीता है।

नीरज ने मिल्खा को समर्पित किया पदक

टोक्यो ओलंपिक में भाला फेंक प्रतिस्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने के बाद नीरज चोपड़ा ने अपना पदक देश के सबसे महान एथलिट्स में से एक उड़न सिख मिल्खा सिंह को अपना पदक समर्पित किया।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.

1 × three =

और पढ़ें

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कांग्रेस का गुजरात प्लान क्या है?
कांग्रेस का गुजरात प्लान क्या है?