मप्र : मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा

भोपाल। मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल का गठन किए जाने के बाद आज विभागों का बंटवारा कर दिया गया है।

इससे पहले इन मंत्रियों को दो-दो संभाग का प्रभारी बनाया गया। चौहान ने राष्ट्रव्यापी बंद खत्म होने के बाद मंत्रिमंडल विस्तार की बात भी कही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया गया है।

मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को गृह और स्वास्थ्य, तुलसी राम सिलावट को जल संसाधन, कमल पटेल को कृषि एवं किसान कल्याण, गोविंद सिंह राजपूत को सहकारिता एवं नागरिक आपूर्ति और मीना सिंह को आदिम जाति कल्याण विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

चौहान ने स्पष्ट किया है कि अभी विभागों का जो बंटवारा किया है, वह कोविड-19 की स्थिति को ध्यान में रखते हुए किया है। कोरोना को नियंत्रित करने के लिए जितने विभाग जरूरी थे, फिलहाल उन्हीं का प्रमुखता से बंटवारा किया है। चौहान ने मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कहा कि लॉकडाउन खत्म होते ही मंत्रिमंडल का जल्द विस्तार किया जाएगा। उस समय संपूर्णता से विचार करके फिर विभागों का वितरण होगा।

राज्य में मंगलवार को ही मुख्यमंत्री चौहान ने मंत्रिमंडल का गठन किया था। पांच मंत्रियों ने शपथ ली थी। बाद में इन मंत्रियों को दो-दो संभागों की जिम्मेदारी सौंपी गई। मिश्रा को भोपाल व उज्जैन, तुलसी राम सिलावट को इंदौर व सागर, गोविंद राजपूत को ग्वालियर व चंबल, कमल पटेल को नर्मदापुरम व जबलपुर और मीना सिंह को रीवा व शहडोल संभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

ज्ञात हो कि शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद की शपथ 23 मार्च को ली थी। वर्तमान में राज्य कोरोना महामारी से जूझ रहा है। इसी के चलते छोटे मंत्रिमंडल का गठन किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares