nayaindia Surajkund home ministers conference Amit Shah गृहमंत्री सम्मेलनः गैर भाजपा सीएम ने बनाई दूरी, मान और विजयन हुए शामिल
kishori-yojna
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Surajkund home ministers conference Amit Shah गृहमंत्री सम्मेलनः गैर भाजपा सीएम ने बनाई दूरी, मान और विजयन हुए शामिल

गृहमंत्री सम्मेलनः गैर भाजपा सीएम ने बनाई दूरी, मान और विजयन हुए शामिल

Up elction Amit Shahs

सूरजकुंड। केंद्र द्वारा बृहस्पतिवार को यहां आयोजित राज्यों के गृहमंत्रियों (home ministers) के चिंतन शिविर (meditation camp) में अपने प्रदेशों में गृह विभाग का प्रभार संभाल रहे ज्यादातर गैर भाजपा मुख्यमंत्रियों ने हिस्सा नहीं लिया।

गृह विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे गैर-भाजपा मुख्यमंत्रियों में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) (पश्चिम बंगाल), नीतीश कुमार (Nitish Kumar) (बिहार), नवीन पटनायक (Naveen Patnaik) (ओडिशा) और एम के स्टालिन (MK Stalin) (तमिलनाडु) हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की अध्यक्षता में आयोजित सम्मेलन में केवल दो गैर-भाजपा मुख्यमंत्री- पंजाब के भगवंत मान (Bhagwant Mann) और केरल के पिनराई विजयन (Pinarayi Vijayan) शामिल हुए। बाकी गैर-भाजपा राज्यों का प्रतिनिधित्व या तो कैबिनेट मंत्री या गृह विभाग के प्रभारी राज्य मंत्री द्वारा किया गया।

बृहस्पतिवार को शुरू हुए दो दिवसीय सम्मेलन में मान और विजयन के अलावा भाग लेने वाले मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (हरियाणा), योगी आदित्यनाथ (उत्तर प्रदेश), हेमंत विश्व शर्मा (असम), एन बीरेन सिंह (मणिपुर), प्रमोद सावंत (गोवा), माणिक साहा (त्रिपुरा), पुष्कर सिंह धामी (उत्तराखंड) और प्रेम सिंह तमांग (सिक्किम) हैं।

पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित भी बैठक में शामिल हुए। पुरोहित चंडीगढ़ के प्रशासक भी हैं। बैठक में महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और नगालैंड के उपमुख्यमंत्री वाई पैटन भी शामिल हुए। अधिकारियों के अनुसार, चिंतन शिविर के दौरान साइबर अपराधों की जांच, महिला सुरक्षा और तटीय सुरक्षा सुनिश्चित करने सहित आंतरिक सुरक्षा से जुड़े कई मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। (भाषा)

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − nine =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अदानी को बचाने कौन आया?
अदानी को बचाने कौन आया?