nayaindia ABVP National Convention Yoga Guru Ramdev Dharmendra Pradhan एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन का बाबाराम देव करेंगे उद्घाटन
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| ABVP National Convention Yoga Guru Ramdev Dharmendra Pradhan एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन का बाबाराम देव करेंगे उद्घाटन

एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन का बाबाराम देव करेंगे उद्घाटन

जयपुर। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (Akhil Bharatiya Vidyarthi Parishad) (एबीवीपी-ABVP) का 68वां राष्ट्रीय अधिवेशन (National Convention ) 25 नवंबर से जयपुर में होगा। योग गुरु रामदेव (Yoga Guru Ramdev) इस अधिवेशन का उद्धाटन करेंगे। आयोजकों के अनुसार, अधिवेशन के अंतिम दिन 27 नवंबर को केंद्रीय शिक्षा, कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) भी इसमें शामिल होंगे।

एबीवीपी के राष्ट्रीय सचिव होशियार सिंह मीणा ने कहा कि संगठन का राष्ट्रीय अधिवेशन 18 साल बाद जयपुर में हो रहा है और इसमें सभी राज्यों के पदाधिकारी हिस्सा लेंगे। उन्होंने बताया कि 24 नवंबर को एक प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा और 25 नवंबर को योग गुरु रामदेव द्वारा जेईसीआरसी विश्वविद्यालय परिसर में अधिवेशन का आधिकारिक उद्घाटन किया जाएगा।

मीणा के मुताबिक, 26 नवंबर को अग्रवाल कॉलेज से अल्बर्ट हॉल तक शोभायात्रा निकाली जाएगी, जिसमें सभी राज्यों की संस्कृति को प्रदर्शित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान अधिवेशन के अंतिम दिन आयोजित होने वाले यशवंतराव केलकर युवा पुरस्कार समारोह के मुख्य अतिथि होंगे।

मीणा के अनुसार, इस अधिवेशन में पदाधिकारियों के अलावा सभी राज्यों के छात्र, शिक्षक और शिक्षाविद् भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि प्रतिभागी शिक्षा क्षेत्र में विभिन्न परिवर्तनों की समकालीन स्थिति और देश के अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करेंगे। मीणा ने कहा कि एबीवीपी का राष्ट्रीय अधिवेशन शिक्षा और अन्य राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा के लिए एक रचनात्मक मंच है। (भाषा)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six − 5 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
नेपाल से अयोध्या पहुंची करीब 6 लाख साल पुरानी ’शालिग्राम शिला’, माना जाता हैं भगवान विष्णु का अवतार
नेपाल से अयोध्या पहुंची करीब 6 लाख साल पुरानी ’शालिग्राम शिला’, माना जाता हैं भगवान विष्णु का अवतार