nayaindia Jairam Ramesh Rahul Gandhi Kashmir Kanyakumari भारत जोड़ो यात्रा का तीस जनवरी को कश्मीर में समापन
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Jairam Ramesh Rahul Gandhi Kashmir Kanyakumari भारत जोड़ो यात्रा का तीस जनवरी को कश्मीर में समापन

भारत जोड़ो यात्रा का तीस जनवरी को कश्मीर में समापन

जयपुर। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के नेतृत्व में कन्याकुमारी (Kanyakumari) से कश्मीर (Kashmir) तक निकाली जा रही कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) का शनिवार को विश्राम का दिन है और रविवार को राजस्थान में दौसा जिले से सुबह फिर शुरु होगी जो आगामी 30 जनवरी को कश्मीर में समाप्त होगी।

कांग्रेस सांसद एवं संचार प्रभारी जयराम रमेश (Jairam Ramesh) के अनुसार यात्रा 18 दिसंबर सुबह फिर शुरु होने पर श्री राहुल गांधी दोपहर में 45 नागरिक संस्थाओं के लोगों से मिलेंगे। यात्रा 19 दिसंबर को अलवर में होगी और जहां एक रैली का आयोजन किया जायेगा। भारत जोड़ो यात्रा ने गत चार दिसंबर को राजस्थान में प्रेवश किया और इस दौरान यह दूसरा विश्राम का दिन हैं जबकि गत नौ दिसंबर को भी विश्राम का दिन रहा था।

श्री रमेश ने बताया कि भारत जोड़ो यात्रा 20 दिसंबर की शाम हरियाणा में प्रवेश कर जायेगी जो 21 से 24 फरवरी तक चार दिन हरियाणा में रहेगी। इसके बाद दिल्ली में प्रवेश करेगी। उन्होंने बताया कि भारत जोड़ो यात्रा दो या तीन जनवरी को उत्तरप्रदेश में जायेगी और इसके बाद फिर दूसरे चरण में हरियाणा में प्रवेश करेगी और फिर पंजाब, जम्मू और अंत में कश्मीर पहुंचेगी वहां श्री राहुल गांधी तिरंगा फहरायेंगे। उन्होंने बताया कि यात्रा 30 जनवरी को समाप्त हो जायेगी।

उन्होंने बताया कि 26 जनवरी से यात्रा का दूसरा चरण शुरु होगा जिसमें दो महीने का हाथ से हाथ जोड़ों अभियान चलाया जायेगा। यह अभियान 26 जनवरी से 26 मार्च तक चलेगा। उन्होंने बताया कि इस अभियान में बूथ एवं ब्लॉक स्तर पर भारत जोड़ो रैलियां होगी और जिला स्तर पर अधिवेशन होंगे जिसका मकसद भारत जोड़ो यात्रा के संदेश को और फैलाया जा सके। श्री रमेश ने बताया कि 26 से 29 तक अगर संसद सत्र जारी रहा तो श्री राहुल गांधी सत्र में भी भाग लेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 3 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अमेरिका हिंसामुक्त कैसे हो?
अमेरिका हिंसामुक्त कैसे हो?