Naya India

अंसल हाइटेक टाउनशिप बिल्डर गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा। नोएडा जिला प्रशासन (Noida district administration) ने उत्तर प्रदेश भू संपदा विनियामक प्राधिकरण (Uttar Pradesh Real Estate Regulatory Authority) (यूपी रेरा-UP RERA) के रिकवरी सर्टिफिकेट का बकाया नहीं देने पर अंसल हाइटेक टाउनशिप (Ansal Hitech Township) के निदेशक दिनेश प्रताप सिंह (Dinesh Pratap Singh) को गिरफ्तार कर लिया है। करीब 24 घंटे तक हवालात में रखने के बाद भी बिल्डर ने पैसा जमा नहीं कराया। जिसके बाद सदर तहसील की टीम ने निदेशक को जेल भेज दिया। बिल्डर पर आरसी का 23.70 करोड़ बकाया है।

आरसी का पैसा जमा नहीं करने पर बिल्डर को कई बार नोटिस जारी किया गया था। बिल्डर के प्रोजेक्ट पर मुनादी कराई गई थी लेकिन पैसा जमा नहीं कराया गया। बिल्डर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया। बृहस्पतिवार की शाम अंसल हाईटेक टाउनशिप के निदेशक दिनेश प्रताप सिंह को नोएडा से गिरफ्तार कर दादरी तहसील की हवालात में बंद कर दिया गया। शुक्रवार की शाम तक पैसा जमा नहीं करने पर दिनेश प्रताप को जिला जेल भेज दिया गया। अब बिल्डर की अचल संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी।

एसडीएम सदर ने बताया है कि दिनेश प्रताप सिंह फिलहाल मिग्सन ग्रुप में कार्यरत है। लेकिन रिकॉर्ड ऑफ कंपनी (आरओसी) की वेबसाइट पर अंसल हाईटेक टाउनशिप के निदेशक हैं। इसी के आधार पर उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। मिगसन ग्रुप ने इस कार्रवाई में किसी भी तरीके का संबंध होने से इनकार किया है। (आईएएनएस)

 

Exit mobile version