Naya India

लखनऊ में कोविड रोधी टीके का भंडार खत्म

लखनऊ। कोरोना वायरस संक्रमण (corona virus infection) की रोकथाम के लिए सरकार द्वारा मुस्तैदी दिखाए जाने के बीच उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चारों सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर कोविड-19 रोधी टीकों (anti-Covid-19 vaccines) का भंडार खत्म हो गया है, जिससे लोगों को एहतियाती खुराक हासिल करने में परेशानी हो रही है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी एम के सिंह ने बताया कि सरकारी केंद्रों पर सोमवार से ही कोविड-19 रोधी टीके उपलब्ध नहीं हैं और सरकार से टीके मुहैया कराने की गुजारिश की गई है।

इस बीच, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक (Brijesh Pathak) ने कहा, सरकार टीके का इंतजाम कर रही है। प्रदेश में जल्द ही कोविड रोधी टीके की 10 लाख खुराक पहुंचेंगी। हम कोविड-19 की स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहे हैं। पाठक प्रदेश में स्वास्थ्य मंत्रालय की कमान भी संभाल रहे हैं।

इसे भी पढ़ेः कोरोना संक्रमण से 187 लोग मुक्त

राज्य में एहतियाती खुराक लगवाने के लिए सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर पहुंच रहे लोगों को निराश होकर लौटना पड़ रहा है। लखनऊ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल में अपनी पत्नी के साथ एहतियाती खुराक लगवाने पहुंचे चंदन सिंह रावत ने बताया कि डॉक्टरों ने उनसे कहा है कि टीके का भंडार खत्म हो गया है। रावत ने कहा कि उन्होंने जब डॉक्टरों से पूछा कि क्या वह किसी अन्य अस्पताल में एहतियाती खुराक लगवा सकते हैं तो उन्हें बताया गया कि पूरे शहर में कहीं भी टीका उपलब्ध नहीं है।

गौरतलब है कि लखनऊ में श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल, लोक बंधु अस्पताल, बलरामपुर अस्पताल और एन के रोड सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के रूप में चार सरकारी कोविड-19 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं, जहां मुफ्त में टीका लगाया जा रहा है। (भाषा)

Please follow and like us:
Exit mobile version