nayaindia Kedarnath Dham: केदारनाथ धाम में होने जा रहा नया विकास कार्य .......
kishori-yojna
देश | उत्तराखंड | ताजा पोस्ट | लाइफ स्टाइल | धर्म कर्म| नया इंडिया| Kedarnath Dham: केदारनाथ धाम में होने जा रहा नया विकास कार्य .......

केदारनाथ धाम में अब होने जा रहा और नया विकास कार्य, श्रद्धालुओं को मिलेगी राहत

नई दिल्ली | Kedarnath Dham: भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम में बाबा भोलेनाथ की ऐसी कृपा बरस रही है कि, यहां एक से बढ़कर एक विकास कार्य और सौन्दर्यीकरण कार्यों का सिलसिला जारी है। अब देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी यहां तीर्थयात्रियों के लिए केदारनाथ ट्रेक और केदार घाटी में विशेष सुविधाओं के निर्माण और विकास पर विशेष ध्यान दे रहे हैं।

खास तरीके से बनेगा शिव उद्यान
Kedarnath Dham: जानकारी के मुताबिक, अब बाबा केदारनाथ धाम में और भी बहुत कुछ नया होने जा रहा है। यहां चल रहे विकास कार्यों के तहत केदार घाटी में स्थित केदारनाथ मंदिर के पीछे एक शिव उद्यान का निर्माण किया जाएगा, जो तीर्थयात्रियों को दिव्यता का एहसास कराने वाला होगा। शिव उद्यान में तीर्थयात्रियों के लिए एक बड़ा रंगभूमि-शैली का बैठने का स्थान, हरा-भरा क्षेत्र के अलावा और भी बहुत कुछ आकर्षण होगा।

ये भी पढ़ें:- केरल सीएम के आवास पर पिस्तौल से दुर्घटनावश फायरिंग

118 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान
Kedarnath Dham: 2023 में शुरू होने वाली इन परियोजनाओं को केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय 8 महीने में पूरा करेगा। इस विकास कार्य पर करीब 118 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। शिव उद्यान के अलावा केदारनाथ धाम में आने वाले तीर्थयात्रियों के ध्यान और विश्राम के लिए गौरीकुंड से केदारनाथ तक ट्रेक पर चार चिंतन स्थलों का भी निर्माण किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:- बीएसएफ ने पंजाब में फिर पाक ड्रोन मार गिराया

गौरीकुंड से केदारनाथ मंदिर तक रास्ते में होगा चिंतन स्थलों का निर्माण
Kedarnath Dham: बाबा शिव के धाम आने वाले सभी श्रद्धालुओं के लिए गौरीकुंड से केदारनाथ तक के 18 किलोमीटर मार्ग में श्रद्धालुओं के लिए चिंतन स्थलों का निर्माण कराया जाएगा। ये चिंतन स्थल रामबाड़ा, छोटी लिनचोली, बड़ी लिनचोली और चन्नी कैंप जैसी जगह निर्मित किए जाएंगे। इन चिंतन स्थलों में तीर्थयात्रियो को ध्यान संगीत सुनाई देगा जो उनके भक्तिरस को बढ़ाएगा। इसके अलावा यहां आराम करने और स्वास्थ्यलाभ की सुविधा भी होगी। यहां दीवारों में लगी डिस्प्ले एलईडी में बाबा केदारनाथ मंदिर के दृश्य भी दिखाई देंगे।

ये भी पढ़ें:- बाबा महाकाल मंदिर में अब मोबाइल बैन! उल्लंघन करने पर देना होगा जुर्माना

आपको बता दें कि, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू करवाए गए केदारनाथ धाम के विकास कार्य में आदि गुरु शंकराचार्य की समाधि स्थल में शंकराचार्य की 12 फुट की मूर्ति स्थापित की गई है। इसी के साथ दिवाली से पहले ही पीएम मोदी ने गौरीकुंड और केदारनाथ के बीच 9.7 किलोमीटर लंबे रोपवे की भी आधारशिला रखी है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 + seven =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
इंसानों और हाथियों के बीच संघर्ष में 462 लोगों ने गंवायी जान
इंसानों और हाथियों के बीच संघर्ष में 462 लोगों ने गंवायी जान