अब पौधरोपण में भी एक और रिकॉर्ड बनाएगी योगी सरकार - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

अब पौधरोपण में भी एक और रिकॉर्ड बनाएगी योगी सरकार

लखनऊ। तीन वर्षो में रिकॉर्ड 39़ 53 करोड़ पौधरोपण के बाद वर्ष 2020-2021 में भी योगी सरकार पूरे सीजन में 30 करोड़ पौधे लगवाकर एक और रिकॉर्ड बनाने जा रही है। इसमें भी एक दिन में 25 करोड़ पौधे लगाए जाएंगे। यह खुद में भी एक रिकॉर्ड होगा।

इसके पहले वर्ष 2017, 2018 और 2019 में क्रमश: 5़17, 11़ 77 और 22़ 59 करोड़ (कुल 39़ 53 करोड़) पौध लगाए गये थे। 2021-2022 में भी लक्ष्य 30-35 करोड़ से अधिक पौध लगाने का है। यह लक्ष्य बढ़ भी सकता है। मसलन इस साल भी पहले 25 करोड़ पौध रोपण का ही लक्ष्य था, लेकिन मुख्यमंत्री की पहल पर इसे बढ़ाकर 30 करोड़ कर दिया गया। अगर लक्ष्य के अनुसार ही पौध रोपण हुआ तो भी छह वर्षो में रिकर्ड 134़ 59 करोड़ पौधे लगेंगे।

नवंबर में ही हो गई थी तैयारी

प्रदेश के जलवायु क्षेत्र के अनुसार किस क्षेत्र में किस प्रजाति के पौधे लगे हैं इसकी मुकम्मल योजना सरकार नवंबर में ही तैयार कर चुकी है। इसके बारे में मुख्य सचिव आरके तिवारी की ओर से 21 नवंबर, 2019 को ही सभी मंडलायुक्तों, डीएम, प्रभागीय वनाधिकारी, प्रभागीय निदेशक और मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश भेजा जा चुका है।

लखनऊ में एक दिन में लगेंगे 2 करोड़ से अधिक पौधे

एक दिन में सर्वाधिक पौधे लखनऊ में लगेंगे। दूसरे नंबर पर कानपुर होगा। यही दो मंडल ऐसे हैं जहां एक दिन में दो करोड़ से अधिक पौधे लगने हैं। मेरठ, सहारनपुर, अलीगढ़, बस्ती और आजमगढ़ मंडल को छोड़ दें, तो बाकी सभी मंडलों में एक-एक करोड़ से अधिक पौधे लगने हैं।

रिकॉर्ड पौधरोपण का हिस्सा बनेंगे 14 विभाग

एक दिन में 25 करोड़ पौधरोपण का रिकार्ड बनाने में 14 विभाग (सहकारिता, उद्योग, ऊर्जा, माध्यमिक शिक्षा, बेसिक शिक्षा, उच्च शिक्षा, श्रम, स्वास्थ्य, परिवहन, रेलवे, रक्षा, उद्यान और गृह विभाग) हिस्सेदार बनेंगे। सर्वाधिक 60़ 80 लाख पौधे उद्यान विभाग लगाएगा।

पूरे अभियान के दौरान लगेंगे 2 करोड़ सहजन

सहजन के औषधीय गुणों के मद्देनजर पौधरोपण के इस पूरे अभियान के दौरान दो करोड़ से अधिक सहजन के पौधे लगाए जाएंगे। प्रधानमंत्री आवास पाने वाले सभी पात्रों को अनिवार्य रूप से सहजन के दो-दो पौधे दिए जाएंगे। मालूम हो कि औषधीय गुणों के कारण सहजन को चमत्कारिक पौधा भी कहा जाता है। इसमें 92 पोषक तत्व, 46 एंटीऑक्सीडेन्ट्स, 36 एंटी इनफ्लेमेटरी, 18 अमीनो एसिड एवं 9 आवश्यक अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं। इसके पत्तियों को जानवरों को चारे के रूप में खिलाने पर उनके वजन में 32 और दूध में एवं 43-65 प्रतिशत तक की वृद्धि पाई गई है।

मंडलवार एक दिन में लगेंगे इतने पौधे

लखनऊ- 28608690, कानपुर- 20394940, अयोध्या- 17788370, चित्रकूट- 17722310, देवीपाटन- 16694280, झांसी- 14492780, मिर्जापुर- 14005610, प्रयागराज- 13680550, बरेली- 13623500, मुरादाबाद- 13534770, वाराणसी- 12959550, आगरा- 12256180, गोरखपुर- 11714010, आजमगढ़- 9648260, मेरठ- 9403240, अलीगढ़- 9173270, बस्ती- 7819530, सहारनपुर- 6480160।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Assemble polls : e-EPIC वोटर कार्ड क्या है? अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड करने का तरीका और उपयोग