nayaindia Nupur tailor murdered नूपुर समर्थक हिंदू दर्जी की हत्या
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Nupur tailor murdered नूपुर समर्थक हिंदू दर्जी की हत्या

नूपुर समर्थक हिंदू दर्जी की हत्या

उदयपुर। भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता रहीं नूपुर शर्मा का सोशल मीडिया में समर्थन करने पर राजस्थान के उदयपुर में एक हिंदू दर्जी की गला काट कर हत्या कर दी गई है। रियाज अंसारी और मोहम्मद गौस नाम के दो लोगों ने कन्हैयालाल साह की दुकान में घुस कर तलवार से गला काट दिया। दोनों ने गला काट कर हत्या करने की वीडियो भी बनाई। हमलावरों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धमकी दी। दर्जी कन्हैयालाल ने पैगंबर मोहम्मद पर दिए नूपुर शर्मा के बयान के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली थी।

दर्जी कन्हैयालाल की गला काट कर हत्या करने के बाद दोनों अपराधियों ने वीडियो भी शेयर किया। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद कई इलाकों में तनाव है और छिटपुट हिंसा की घटनाएं हुई हैं। घटना के बाद सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। साथ ही मंगलवार की शाम से 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। राज्य सरकार ने अतिरिक्त सुरक्षा बलों को बुला कर तैनात किया है ताकि कानून व्यवस्था बनाए रखी जा सके।

गौरतलब है कि राजस्थान के उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल ने 10 दिन पहले नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डाला था। उसके बाद से उसे धमकियां मिल रही थीं, जिसकी वजह से उसने छह दिन तक दुकान नहीं खोली थी। मंगलवार को दुकान खुलने के बाद दोपहर बाद दो हमलावर दिनदहाड़े दुकान में घुसे और तलवार से कई हमले किए और गला काट दिया। इस पूरे हमले का वीडियो भी बनाया। इतना ही नहीं, आरोपियों ने घटना के बाद सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर हत्या की जिम्मेदारी भी ली है। दोनों आरोपियों को राजसमंद के भीम से गिरफ्तार किया गया।

शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए उदयपुर जिले में 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। घटना के विरोध में हाथीपोल, घंटाघर, अश्वनी बाजार, देहली गेट और मालदास स्ट्रीट के बाजार तत्काल बंद हो गए। पूरे राजस्थान में अलर्ट जारी किया गया है। कन्हैयालाल की धानमंडी स्थित भूतमहल के पास सुप्रीम टेलर्स नाम से दुकान है। मंगलवार दोपहर करीब ढाई बजे बाइक से आए दो बदमाश कपड़े का नाप देने का बहाना बनाकर दुकान में घुसे और कन्हैयालाल की हत्या कर दी।

बताया गया है कि सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने के बाद से कन्हैयालाल लगातार धमकियों से परेशान था। छह दिनों से उसने अपनी दुकान भी नहीं खोली थी। उसने धमकियां देने वालों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बहरहाल, घटना के बाद हाथीपोल चौराहे पर कुछ युवाओं और पुलिस की झड़प हुई। इसमें भाजपा युवा मोर्चा का एक कार्यकर्ता घायल हो गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

9 − 3 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
तृणमूल कांग्रेस के नेता को सीबीआई ने गिरफ्तार किया
तृणमूल कांग्रेस के नेता को सीबीआई ने गिरफ्तार किया