पोषण बने राजनीतिक एजेंडा : ईरानी - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

पोषण बने राजनीतिक एजेंडा : ईरानी

नयी दिल्ली। केन्‍द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्‍मृति ईरानी ने सोमवार को कहा कि भारत को सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) हासिल करने के लिए स्वच्छता और स्वच्छ पेयजल के साथ ही पोषण भी राजनीतिक और प्रशासनिक एजेंडे में शामिल करना होगा।

श्रीमती ईरानी ने यहां गैर सरकारी संगठन बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह अध्‍यक्ष बिल गेट्स के साथ मिलकर भारतीय पोषण कृषि कोष ( बीपीकेके) का शुभारंभ किया।

इसे भी पढ़ें :- ईडी ने अदालत से चिदंबरम की जमानत नामंजूरी में हुई चूक में सुधार का अनुरोध

यह कोष बेहतर पोषण परिणामों के लिए देश में 128 कृषि-जलवायु क्षेत्रों में विविध प्रकार की फसलों का भंडार होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के सतत जारी रहने वाली हरित क्रांति के उस संदेश के अनुरूप है जिसके जरिए देश के नागरिकों के पोषक आहार की जरुरतों तथा देश में फसल उगाए जाने के तरीकों और कृषि उत्‍पादन के बीच सामंजस्‍य लाया जा सके। देश के हर घर को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने पर काम कर रहा है।

उन्‍होंने कहा कि मजदूरी के नुकसान की भरपाई करके प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ एक करोड़ लाभार्थियों तक पहुंचाया गया जिससे 2013 से मातृ मृत्यु दर में 26.9 प्रतिशत की कमी आई। इस अवसर पर महिला और बाल विकास मंत्रालय के सचिव रविन्‍द्र पंवार ने बिल और मिलिडां गेट्स फाउंडेशन के भारत में कार्यालय के निदेशक हरि मेनन को इच्‍छा पत्र सौंपा। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जाने माने कृषि वैज्ञानिक डा. एम एस स्‍वामिनाथन कहा कि भारत को पोषण के मामले में सुरक्षित बनाने के लिए पांच सूत्री कार्य योजना लागू करनी होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *