एक हजार करोड़ रु तत्काल राहत या एक पैकेज, स्पष्ट नहीं: ममता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अम्फान तूफान से मची तबाही के लिए जो एक हजार करोड़ रुपए की राशि जारी की है, वह तत्काल सहायता है या एक पैकेज है।

पश्चिम बंगाल में अम्फान तूफान से चार जिले बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं और करीब 80 लोगों की मौत हो गयी है तथा पांच लाख लोग बेघर हो गये हैं। मोदी ने तूफान से प्रभावित उत्तर और दक्षिण 24 परगना जिलों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद एक हजार करोड़ रुपये की मदद देने की घोषणा की।

मोदी ने इस दौरान आश्वासन दिया कि तूफान में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक मदद भी केंद्र देगा। प्रधानमंत्री ने कहा, तूफान से हुई क्षति के विस्तृत आकलन के लिए केंद्र से एक दल भेजा जायेगा। हमारी पहली प्राथमिकता तूफान प्रभावित लोगों के पुनर्वास की है। हम सभी चाहते हैं पश्चिम बंगाल में जीवन फिर से सामान्य हो और राज्य तूफान की त्रासदी से ऊबर कर आगे बढ़े।

हवाई सर्वेक्षण के दौरान मोदी के साथ राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी थीं। सर्वेक्षण के बाद बनर्जी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि एक हजार करोड़ तत्काल राशि है या पुनर्वास के लिए पैकेज। उन्होंने कहा कि वह कल फिर से अम्फान से बुरी तरह प्रभावित दक्षिणी 24 परगना जिले का जायजा लेंगी और सबसे ज्यादा प्रभावित इलाके पाथोरपट्टीमा, गोसाबा, बसंती, नामखाना, काकद्वीप भी जाएंगी और हर ब्लॉक प्रशासन के साथ बैठक भी करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares