गांधी पर आपत्तिजनक बयान को लेकर तीखी नोकझोंक, विपक्ष का बहिर्गमन

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के एक नेता द्वारा महात्मा गाँधी के संबंध में दिये गये विवादित बयान को लेकर लोकसभा में आज सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच तीखी नोंकझोंक हुई और इसके बाद कांग्रेस तथा अन्य विपक्षी दलों ने सदन से बहिर्गमन किया।

इसी मुद्दे पर सुबह प्रश्नकाल के दौरान सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बाद दोपहर 12 बजे जब कार्यवाही दुबारा शुरू हुई तो कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुये कहा कि सत्तारूढ़ भाजपा के नेताओं द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी को गाली दी जा रही है, उनके सत्याग्रह को “नौटंकी” बताया जा रहा है। उन्होंने रावण से जोड़ते हुये भाजपा के सदस्यों के लिए कुछ आपत्तिजनक टिप्पणी की। उनके इतना कहते ही सत्ता पक्ष के सदस्य भी खड़े हो गये और आपत्ति करने लगे।

इसी बीच कांग्रेस के सदस्य हाथों में तख्तियाँ लिये सदन के बीचो-बीच आ गये और “महात्मा गाँधी अमर रहे” के नारे लगाने लगे। संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि भाजपा के जिस सदस्य की विपक्ष बात कर रहा है उन्होंने ऐसा कोई बयान देने की बात से इनकार किया है।

जोशी ने कहा कि भाजपा के सदस्य महात्मा गाँधी के सच्चे अनुयायी हैं और उनकी 150वीं जयंती वर्ष पर सबने 150 किलोमीटर की पदयात्रा की है। उन्होंने कांग्रेस के सदस्यों के बारे में कहा “ये नकली गाँधी – सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी – के अनुयायी हैं।” इस पर कांग्रेस के सदस्यों ने भी आपत्ति की। वे “प्रधानमंत्री सदन में आओ” और “प्रधानमंत्री जवाब दो” के नारे लगाने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares