नागालैंड में सीएए के विरोध में शांतिपूर्ण प्रदर्शन

कोहिमा। नागालैंड के दीमापुर शहर में असमिया समुदाय ने दीमापुर नामघर परिसर में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में धरना दिया एवं प्रदर्शन किये।

दीमापुर असमिया समुदाय द्वारा रविवार को आयोजित इस विरोध प्रदर्शन में ऊपरी और निचले असम के असमिया समुदाय सहित बराक घाटी के विभिन्न धार्मिक समुदायों के लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए। उन्होंने संसद द्वारा पारित सीएए को “धर्मनिरपेक्ष और भेदभावपूर्ण” वाला बताते हुये विरोध प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने नाम कीर्तन में पारंपरिक ढोल और झांझ की थाप के साथ अभिलक्षित असमिया प्रार्थना की। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले हस्तक्षेप करे। वह सीएए के निहितार्थों की बेहतर समझ रखते है और यह पूरे पूर्वोत्तर और असम के लिए हानिकारक है।

दीमापुर नामघर ट्रस्ट बोर्ड के सचिव दीप बोरकोतोकी ने संवाददाताओं दावा करते हुये कहा कि दीमापुर का असमिया समाज और नागालैंड में रहने वाला समुदाय सीएए के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि वे अपने लोकतांत्रिक अधिकार का इस्तेमाल कर इसका विरोध कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares