nayaindia Petition Krishna Janmabhoomi case कृष्ण जन्मभूमि मामले में याचिका स्वीकार
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Petition Krishna Janmabhoomi case कृष्ण जन्मभूमि मामले में याचिका स्वीकार

कृष्ण जन्मभूमि मामले में याचिका स्वीकार

Rahul Gandhi case Jharkhand

मथुरा। वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे को लेकर चल रहे विवाद के बीच एक बार फिर मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि का मामला भी फिर चर्चा में आ गया है। मथुरा की जिला अदालत ने इस मामले में संशोधन याचिका स्वीकार कर ली है। गुरुवार को इस मामले में जिला जज कोर्ट में सुनवाई हुई। जिला जज राजीव भारती की कोर्ट ने इस याचिका को स्वीकार करते हुए कहा कि श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर बनाम शाही ईदगाह मस्जिद मामले मामले की सुनवाई निचली अदालत में होगी। पहली सुनवाई 26 मई को होगी।

भगवान श्रीकृष्ण की सखी के तौर पर वकील रंजना अग्निहोत्री की ओर से दायर याचिका में 2.37 एकड़ जमीन को मुक्त कराने की मांग की गई है। इसी जमीन पर शाही ईदगाह मस्जिद है। रंजना अग्निहोत्री सहित छह लोगों की तरफ से यह याचिका दाखिल की गई है और इसमें कहा गया है कि श्रीकृष्ण विराजमान की 13.37 एकड़ जमीन है। इस भूमि में से करीब 11 एकड़ पर श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर बना है, जबकि 2.37 एकड़ जमीन पर शाही ईदगाह मस्जिद है। याचिका में 2.37 एकड़ जमीन को मुक्त करा कर श्रीकृष्ण जन्मस्थान में शामिल करने की मांग की गई है।

इस याचिका में 1968 में हुए समझौते को भी रद्द करने की मांग की गई है। याचिकाकर्ताओं का कहना है कि इस मामले में संस्थान को समझौता करने का अधिकार ही नहीं है, जबकि जमीन ठाकुर विराजमान केशव कटरा मंदिर के नाम से है। वकील रंजना अग्निहोत्री ने भगवान श्रीकृष्ण की सखी के तौर पर एक केस सितंबर, 2020 में सत्र अदालत में दाखिल किया था। इस केस को सत्र अदालत ने खारिज कर दिया था। इसके बाद अक्टूबर में यह केस पुनर्विचार के लिए जिला जज की अदालत में दाखिल किया गया। इस पर करीब डेढ़ साल से सुनवाई चल रही थी। अब अदालत ने इसे स्वीकार कर लिया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

sixteen − 8 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
श्रम से अर्जित धन से ही सुख-शांति
श्रम से अर्जित धन से ही सुख-शांति