PM congratulates Bakrid : बकरीद आज: राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई बड़े नेताओं ने दी ईद-उल-अजहा की मुबारकबात
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| PM congratulates Bakrid : बकरीद आज: राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई बड़े नेताओं ने दी ईद-उल-अजहा की मुबारकबात

बकरीद आज: राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई बड़े नेताओं ने दी ईद-उल-अजहा की मुबारकबात

PM congratulates Bakrid

कोरोना महामारी के कारण पिछल डेढ़ साल से किसी भी प्रकार का आयजन नहीं हो रहा है। किसी भी धर्म का कोई भी आयोजन हो हम रूखे-सूखे तरीके से ही मना रहे है। आज मुस्लिम समुदाय का दूसरा बड़ा त्यौंहार है जिसे फिर से घर पर मनाया जाएगा। (PM congratulates Bakrid)ना नमाज अदा करने मस्जिद में जाने की इजाजत होगी, ना ही किसी से मिलकर मुबारकबात देने की। आज  ईद-उल-अजहा है यानि बकरीद है। इस शुभ मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वैंकेया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को ईद-उल-अजहा की शुभकामनाएं दीं। सभी बड़े नेताओं ने कहा है कि कोरोना नियमों का पालन करते हुए सभी अपने घरों में यह त्यौंहार मनाएं। राष्ट्रपति भवन द्वारा एक ट्वीट किया गया जिसमें राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि सभी देशवासियों को ईद मुबारक। ईद-उज़-ज़ुहा का यह पर्व प्रेम, त्‍याग और बलिदान की भावना के प्रति आदर व्‍यक्‍त करने और समावेशी समाज में एकता और भाईचारे के लिए मिलकर कार्य करने का त्‍योहार है। हम सभी देशवासी भी आज के दिन कोरोना से बचाव के लिए प्रत्येक वर्ग की खुशी के लिए काम करने का संकल्प लेते है।

PM congratulates Bakrid

also read: Eid-ul-Azha 2021 : क्यों दी जाती है कुर्बानी ? जानें क्या है मान्यता…

इस वर्ष भी ईद-उल-अजहा घर पर ( PM congratulates Bakrid )

इसके अलावा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने मंगलवार को ईद-उल-अजहा की पूर्व संध्या पर लोगों को शुभकामनाएं दी और उनसे कोरोना नियमों का पालन करते हुए इस पर्व को घर पर ही मनाने की अपील की है। वेंकैया नायडू ने अपने संदेश में कहा कि ईद-उल-अजहा बलिदान का त्योहार है और यह ईश्वर के प्रति समर्पण का उदाहरण है। ( PM congratulates Bakrid ) नायडू ने कहा कि हमारे देश में सभी त्यौहार एकसाथ मिलकर इक्कठे होकर मनाये जाते है। लेकिन कोरोना महामारी के कारण इस वर्ष भी  हमें यह त्यौहार साधारण तरीके से मनाकर ही संतुष्ट रहना होगा। कोरोना की तीरसी लहर जल्द ही दस्तक देने वाली है। कुछ राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ने लगे है। इस डर को देखते हुए सरकार द्वारा यह  फैसला लिया गया।

पीएम मोदी ने दी बधाई

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सभी देशवासियों को ईद-उल-अजहा की मुबारकबात दी। पीएम मोदी ने लिखा कि ईद मुबारक! ईद-उल-अजहा की हार्दिक शुभकामनाएं। यह दिन सामूहिक सहानुभूति, सद्भाव और सेवा में समावेश की भावना को आगे बढ़ाए। ( PM congratulates Bakrid ) तो वहीं केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ‘कोरोना नियमों को ध्यान में रखते हुए आज मैंने ईद-उल-अजहा के मौके पर अपने आवास पर नमाज अदा की और देश के लोगों और पूरी दुनिया की मानवता के अच्छे स्वास्थ्य और सलामती की दुआ की।

PM congratulates Bakrid

सभी शीर्ष नेताओं ने दी बधाई

केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा कि सरकार का भरपूर सुविधा-संसाधन एवं समाज की सावधानी-संयम ही कोरोना के कहर से देश को मुक्ति दिला सकता है। सरकार-समाज के संकल्प का नतीजा है कि आज भारत मजबूती से कोरोना आपदा से बाहर निकल रहा है। ( PM congratulates Bakrid ) कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बकरीद की बधाई दी। राहुल गांधी ने लिखा कि आप सभी को ईद-उल-अज़हा मुबारकबात।  तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित और मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने मंगलवार को ईद-उल-अजहा की पूर्व संध्या पर बधाई दी। ईद-उल-अजहा को बकरीद भी कहा जाता है।

कम लोगों में अदा हुई नमाज ( PM congratulates Bakrid )

कोरोनी महाहमारी के कारण इस वर्ष भी बकरीद की नमाज सार्वजनिक रूप से अदा नहीं की गई है। जामा मस्जिद के इमाम ने कहा कि कोरोना गाइडलाइन्स का पालन करते हुए हमने सामान्य नमाज का समय रद्द कर दिया। ( PM congratulates Bakrid )  कुछ स्थानीय लोगों को छोड़कर किसी भी अन्य को आने की अनुमति होगी। भीड़ से बचने के लिए यहां सुबह जल्दी ही नमाज अदा की गई थी।

PM congratulates Bakrid

जामा मस्जिद के शाही इमाम अब्दुल गफूर शाह बुखारी ने भी लोगों से अपील की है कि सभी लोग नमाज अपने घरों में कोरोना नियमों का पालन करते हुए अदा करें। किसी भी तरह का मेल-मिलाप ना करें। यह कोरोना के तरत खतरनाक हो सकता है। ( PM congratulates Bakrid ) उन्होंने कहा कि हमें कोविड की तीसरी लहर के मद्देनजर अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए दिशानिर्देशों का पालन करना चाहिए। हमने जामा मस्जिद में सीमित लोगों को नमाज पढ़ने की इजाजत देने का फैसला किया था वो भी कोरोना नियमों को ध्यान में रखते हुए। मस्जिद में 15-20 लोगों द्वारा ईद की नमाज अदा की गई।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *