nayaindia modi covid review meeting कोरोना पर पीएम करेंगे बैठक
kishori-yojna
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| modi covid review meeting कोरोना पर पीएम करेंगे बैठक

कोरोना पर पीएम करेंगे बैठक

modi covid review meeting

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की नई लहर की आशंका के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। बुधवार को दोपहर 12 बजे मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री वर्चुअल बैठक करेंगे। बताया जा रहा है यह बैठक हर राज्य में कोरोना की स्थिति की जानकारी साझा करने के लिए हो रही है। ध्यान रहे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित देश के कई राज्यों में कोरोना के नए केसेज बढ़ रहे हैं। इसके साथ ही संक्रमण की दर भी बढ़ रही है और एक्टिव मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। पिछले चार दिन से लगातार हर दिन ढाई हजार या उससे ज्यादा केस मिल रहे हैं।

देश में सोमवार को लगातार सातवें दिन कोरोना के दो हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। सोमवार को 24 घंटों में देश में कोरोना के 2,483 नए मामले मिले। एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ कर 16 हजार से ज्यादा हो गई है। देश में कोरोना की संक्रमण की दर 0.55 फीसदी हो गई है। हालांकि देश के जाने माने वायरोलॉजिस्ट या सार्वजनिक स्वास्थ्य से जुड़े जानकार अभी चौथी लहर की आशंका को खारिज कर रहा हैं। उनका कहना है कि राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में केसेज बढ़ें हैं लेकिन इनमें भी निरंतरता नहीं है।

बहरहाल, चौथी लहर की आशंका के बीच सबसे ज्यादा चिंता राजधानी दिल्ली को लेकर है, जहां हर दिन एक हजार से ज्यादा केस मिल रहे हैं। दिल्ली में संक्रमण की दर भी छह फीसदी से ऊपर हो गई है और आर वैल्यू दो से ऊपर है। इससे संक्रमण बढ़ने का अंदेशा है। इस बीच सोमवार को 24 घंटों में 1,399 मौतें दर्ज हुई हैं। इसमें असम ने 1,347 पुरानी मौतों को जोड़ा और केरल ने भी 47 मौतों को अपडेट किया है।

Read also अभिव्यक्ति पर चौतरफा खतरा

सोमवार को राजधानी दिल्ली में सबसे ज्यादा 1,011 नए मामले सामने आए। इस दौरान एक मरीज की मौत हो गई। दूसरे नंबर पर हरियाणा है, जहां कोरोना के 470 केस मिले और कोई मौत नहीं हुई। तीसरे नंबर पर केरल हैं, जहां 290 नए केस मिले। उत्तर प्रदेश में 210, मिजोरम में 102, महाराष्ट्र में 84 और तमिलनाडु में 55 नए केस मिले हैं।

इस बीच कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने कहा कि जून के अंत में कोरोना की चौथी लहर पीक पर हो सकती है। उन्होंने आईआईटी कानपुर के एक अध्ययन का हवाला देते हुए कहा कि इसका प्रभाव अक्टूबर तक रहेगा। इसे देखते हुए कर्नाटक सरकार ने राज्य में फेस मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग को अनिवार्य कर दिया है। कई और राज्यों ने मास्क अनिवार्य किया है और नागरिकों से सावधानी बरतने की अपील की है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × four =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राष्ट्रपति द्रौपदी ने देश को संबोधित किया
राष्ट्रपति द्रौपदी ने देश को संबोधित किया