ताजा पोस्ट

Mann Ki Baat में बोले पीएम मोदी, Corona की ताजा लहर के ‘तूफान’ ने देश को झकझोर दिया है

नई दिल्ली | देश में बढ़ते कोरोना (Corona) के प्रकोप को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज कहा कि कोरोना (Corona) की ताजा लहर के ‘तूफान’ ने देश को झकझोर कर रख दिया है लेकिन इसके बावजूद पहली लहर का सफलतापूर्वक मुकाबला करने के बाद देश आत्मविश्वास से भरा हुआ है।

अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) की 76वीं कड़ी में प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने देशवासियों से कोविड-19 की ताजा लड़ाई को जीतने के लिए विशेषज्ञों और वैज्ञानिक सलाह को प्राथमिकता देने का आग्रह किया।

इसे भी पढ़ें – MP News : Corona मरीजों का परिजन कर रहे इलाज, कलेक्टर ने दी एफआईआर की चेतावनी

उन्होंने कहा, कोरोना (Corona) की पहली लहर का सफलतापूर्वक मुकाबला करने के बाद देश हौसले से भरा हुआ था, आत्मविश्वास से भरा हुआ था लेकिन इस तूफ़ान ने देश को झकझोर दिया है। उन्होंने कहा, इस समय हमें इस लड़ाई को जीतने के लिए विशेषज्ञों और वैज्ञानिकों की सलाह को प्राथमिकता देनी है।

उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में राज्य सरकार के प्रयासों को आगे बढ़ाने में केंद्र सरकार पूरी शक्ति से जुटी हुई है और राज्यों की सरकारें भी अपना दायित्व निभाने की पूरी कोशिश कर रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि पिछले दिनों इस संकट से निपटने के लिए उन्होंने देश के चिकित्सा जगत से लेकर दवा निर्माताओं और टीका निर्माताओं सहित अलग-अलग क्षेत्रों के विशेषज्ञों से चर्चा की ओर इस दौरान उनसे मिले सुझावों के अनुरूप सरकार काम कर रही है।

इसे भी पढ़ें – Corona Epidemic में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कटहल का उपयोग है गुणकारी, जानें कैसे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इस बार की कड़ी में कोरोना (Corona) से मुकाबला कर रहे चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों और अन्य कोरोना योद्धाओं से बात की और उनके अनुभव सुने। मुंबई के चिकित्सक शशांक से बातचीत में प्रधानमंत्री ने कोरोना (Corona) की पहली लहर और दूसरी लहर का फर्क जानना चाहा।

इसके जवाब में उन्होंने कहा कि पहली लहर के मुकाबले दूसरे लहर में संक्रमण तेजी से फैल रहा है लेकिन इसके साथ ही इससे ठीक होने की रफ्तार भी ज्यादा है ओर मृत्यु दर काफी कम हैं। शशांक ने कहा कि जैसे लोग कपड़े बदलते हैं वैसे ही कोरोना (Corona) का वायरस भी अपना रंग बदल रहा है।

इसे भी पढ़ें – Corona Epidemic : Oxygen नहीं मिली तो पति को मुंह से सांस देती रही महिला, फिर भी नहीं बचा जा सकी जान

उन्होंने कहा, इसलिए बिलकुल डरने की बात नहीं है और इस लहर को भी हम पार कर लेंगे।’ प्रधानमंत्री (PM Modi) ने इस दौरान लोगों से बढ़चढ़कर टीकाकरण अभियान (Vaccination campaign) में हिस्सा लेने और कोविड- से बचाव के सभी उपायों का पालन करने का अनुरोध किया। प्रधानमंत्री ने नागरिकों को कोविड टीकों को लेकर चल रही अफवाहों के बारे में आगाह करते हुए कहा कि केंद्र सरकार योग्य नागरिकों को निशुल्क टीका लगाती रहेगी।

Latest News

Jammu Kashmir : आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड, 6 गिरफ्तार, भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद
श्रीनगर | Terror Module Busted in Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के बारामूला में सुरक्षाबलों ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए आतंकियों…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लाइफ स्टाइल

देश के सबसे बड़े बैंक में अब ATM से पैसे निकालना हुआ महंगा, अगर आपका खाता है तो जरूर पढ़ें यह नियम

नई दिल्ली |  यदि आप भी देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के कस्टमर हैं तो आपके लिए ये अत्यंत महत्वपूर्ण खबर है। बैंक ने अपने कई जरूरी नियमों में बदलाव किए हैं। स्टेट बैंक की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, नए नियम लागू होने के बाद ATM से Cash Withdrawal और चेकबुक का इस्तेमाल करना महंगा साबित हो सकता है।

सर्विस चार्ज में हुआ बदलाव

1 जुलाई से देश के इस सबसे बड़े बैंक के कई नियमों में बदलाव होने वाला है। दरअसल, बैंक इंडिया ने अपने ATM और बैंक ब्रांच से पैसे निकालने के सर्विस चार्ज में फेरबदल कर दिया है। SBI की आधिकारिक वेबसाइट पर ये जानकारी दी गई। इसके मुताबिक नए चार्ज, ट्रांसफर और अन्य नॉन-फाइनेंशियल लेन-देन पर लागू किए जाएंगे। बैंक के अनुसार नए सर्विस चार्ज 1 जुलाई, 2021 से SBI बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट खाताधारकों पर लागू होंगे।

एटीएम से कैश निकालना भी हुआ महंगा

SBI के BSBD कस्टमर को चार बार फ्री कैश निकालने की सुविधा रहती है। फ्री लिमिट खत्म होने के बाद बैंक ग्राहकों से चार्ज वसूलता है। लेकिन १ जुलाई के बाद,  ATM से नकद निकासी पर बैंक 15 रुपए के साथ जीएसटी चार्ज भी वसूल किया जाता है। कोरोना संकट के चलते स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने खाताधारकों को राहत देते हुए कैश निकालने की सीमा को बढ़ा दिया है। ग्राहक अपने बचत खाते से दूसरी ब्रांच में जाकर विड्रॉल फॉर्म के जरिए 25,000 रुपए तक निकाल सकेंगे और चेक से दूसरी ब्रांच में जाकर भी 1 लाख रुपए तक निकाले जा सकते है।

स्टेट बैंक के सर्विस चार्ज में ये बदलाव

गौरतलब है कि SBI BSBD खाता होल्डर्स को एक फाइनेंशियल ईयर में 10 चेक की कॉपी दी जाती है। अब नए नियम के अनुसार, अब 10 चेक वाली चेकबुक पर ग्राहक को शुल्क देना होगा। अब BSBD बैंक खाताधारकों को 10 चेक लीव के लिए 40 रुपए के साथ GST चार्ज देना होगा, वहीं 25 चेक लीव के लिए 75 रुपए और GST चार्ज देना होगा। इमरजेंसी चेकबुक की 10 लीव के लिए 50 रुपए प्लस GST का भुगतान करना होगा। हालांकि बैंक ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए चेकबुक पर नए सर्विस चार्ज से छूट दी है।

Latest News

aaJammu Kashmir : आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड, 6 गिरफ्तार, भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद
श्रीनगर | Terror Module Busted in Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के बारामूला में सुरक्षाबलों ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए आतंकियों…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *