खेल समाचार | ताजा पोस्ट | देश

PM Modi ने ली Milkha Singh के स्वास्थ्य की जानकारी, कामना करते हुए कहा- जल्दी स्वस्थ होकर एथलीटों को दें आशीर्वाद

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने पूर्व भारतीय स्प्रिंटर मिल्खा सिंह (Milkha Singh) से आज शुक्रवार को बात कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली और मिल्खा सिंह के जल्दी स्वस्थ होने की कामना भी की और आशा व्यक्त की कि वह जल्द ही वापस आएंगे और टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले एथलीटों को आशीर्वाद देंगे और उन्हें प्रेरित करेंगे. मिल्खा सिंह कोरोना संक्रमित होने के बाद से बीमार चल रहे हैं और अस्पताल में एडमिट है.

ये भी पढ़ें:- सलमान ने दी थी पीएम मोदी को जान से मारने की धमकी, पुलिस ने किया गिरफ्तार…

कल मिल्खा सिंह की तबीयत एक बार फिर से बिगड़ गई. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मिल्खा सिंह का ऑक्सीजन लेवल गिर गया. खबरों के अनुसार मिल्खा सिंह अभी आईसीयू में है और फिलहाल उनकी हालत फिलहाल स्थिर बताई जा रही है.

ये भी पढ़ें:- देश में कोरोना से हर राज्यों में लगातार राहत की खबर, 24 घंटे में सामने आए 1.32 लाख नए केस

बता दें, 19 मई को कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद मिल्खा सिंह को 24 मई को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसके दो दिनों के बाद उनकी पत्नी को भी पॉजिटिव आने के बाद उसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

ये भी पढ़ें:- Uttar pradesh : सपा सांसद ने शादी समारोह के दौरान बार-बालाओं के साथ लगाए ठुमके, FIR की तैयारी

पूरी दुनिया में ‘फ्लाइंग सिख’ के नाम से मशहूर मिल्खा सिंह भारतीय खेल इतिहास के सबसे महान ट्रैक एंड फील्ड एथलीट हैं. खेल में योगदान के लिए मिल्खा सिंह को पद्मश्री अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया है. मिल्खा सिंह ने एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ में गोल्ड मेडल जीतकर भारत का मान बढ़ाया है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोविड-19 अपडेटस | विदेश

चीन के साथ सीमाओं को साझा करने वाले देश उत्तरी कोरिया ने किया दावा-अब तक नहीं मिला एक भी कोरोना संक्रमित

नई दिल्ली |  कोरोना के कारण पूरी दुनिया में हाहाकरा मचा हुआ है. हालात ये हैं कि अमेरिका जैसा शक्तिशाली और संपन्न देश  भी इस महामारी से उबरने की कोशिश में है और उसकी अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ है. ऐसे में एक बार फिर से उत्तर कोरिया ने चौकाने वाला दावा किया है. उत्तरी कोरियों की ओर से  विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को बताया गया है कि 10 जून तक 30,000 से ज्यादा लोगों का कोरोना टेस्ट कराने के बाद भी अब तक एक भी कोरोना के केस उनके देश में नहीं नहीं मिला है. हालांकि इस बयान पर दुनियाभर के विशेषज्ञों को भरोसा नहीं है. उनका कहना है कि ऐसा हो ही नहीं सकता की जिस बीमारी से दुनियाभर में हड़कंप मच गया है उसका एक भी मरीज उत्तरी कोरिया में ना मिले. ऐसा मानने के पीछे का कारण भी स्पष्ट है. उत्तरी कोरियों की सीमाएं चीन के साथ लगी हुई है इसके साथ ही यहां की स्वास्थ्य व्यवस्था भी उतनी अच्छी नहीं है ऐसे में ये दावा विशेषज्ञो को खोखला ही नदर आता है.

पर्यटन प्रतिबंधित करने का साथ ही राजनयिकों को भी बाहर किया

कोरोना के खिलाफ जंग को उत्तरी कोरिया ने हमेशा से ही अपना निजी और अस्तित्व का मामला बताया है. कोरोना की शुरुआत के समय से ही उत्तरी कोरिया ने सीमा पार से यातायात और व्यापार संबंध को पूर्णत प्रतिबंधित कर दिया था. इसके साथ ही अपने देश में आने वाले पर्यटकों पर भी प्रतिबंध लगा दिया था. इतना ही नहीं बड़ा फैसला लेते हुए उत्तरी कोरिया ने सभी राजनयिकों को भी देश से बाहर भेज दिया है. यही कारण है कि उत्तरी कोरिया की आंतरिक स्थिति का पता दुनिया को नहीं चल पा रहा है और कोरोना के संबंध में अजीबोगरीब दावे उत्तरी कोरिया की ओर से पेश किए जा रहे हैं

इसे भी पढें-  Corona Update: देशभर में Covid से बड़ी राहत! 45 हजार से भी कम आए नए मामले, मौतों में भी कमी

कृषि उत्पादन बढ़ाने को किया जा रहा है प्रेरित

ऐसा नहीं है कि कोरोना के कारण उत्पन्न स्थिति से उतरी कोरिया को कोई नुकसान नहीं हो रहा है. जानकारी के अनुसार कोरोना काल में उत्तरी कोरिया की आर्थिक स्थिति दिन पर दिन बदतर होती जा रही है.  हालातों को देखकर नहीं लगता कि वहां प्रतिबंधों से फिलहाल राहत मिलने वाली है. हालांकि उत्तरी कोरिया के किसानों को लगातार कृषि उत्पादन बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. विशेषज्ञों का कहना है कि आंतरिक स्थिति खराब होने के कारण ही ऐसे निर्णय लिए जा रहे हैं.

इसे भी पढें-  IPL 14: Rajasthan Royals को लेकर बड़ी खबर, टीम में होंगे बड़े बदलाव! ये वजह आई सामने

Latest News

aaचीन के साथ सीमाओं को साझा करने वाले देश उत्तरी कोरिया ने किया दावा-अब तक नहीं मिला एक भी कोरोना संक्रमित
नई दिल्ली |  कोरोना के कारण पूरी दुनिया में हाहाकरा मचा हुआ है. हालात ये हैं कि अमेरिका जैसा शक्तिशाली और संपन्न…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *