मध्य अमेरिकी देशों के लिए सहायता रोकने पर पोंपियो की आलोचना - Naya India
ताजा पोस्ट | विदेश| नया इंडिया|

मध्य अमेरिकी देशों के लिए सहायता रोकने पर पोंपियो की आलोचना

वाशिंगटन। मध्य अमेरिकी देशों में महिलाओं और बच्चों के लिए आवश्यक सहायता रोकने पर दो डेमोक्रेट सांसदों ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो की आलोचना की है। हाउस फॉरेन अफेयर्स कमेटी के दो डेमोक्रेट सांसदों ने शुक्रवार को पोंपियो को लिखे एक पत्र में कहा, हमारा मानना है कि अल सल्वाडोर, ग्वाटेमाला और होंडुरास को अमेरिकी सहायता में कटौती के ट्रंप प्रशासन के गलत निर्णय से अमेरिका में हमारे रुख को नुकसान पहुंचाया है।

सांसदों, समिति के अध्यक्ष इलियट एंगेल और सदस्य एल्बियो साइरस ने पोंपियो से वित्तवर्ष 2017 में बाकी सहायता राशि 4.8 करोड़ और वित्तीय वर्ष 2019 के 52.76 करोड़ डॉलर सहायता राशि को मंजूरी देने का आग्रह किया। एंगेल और साइरस ने कहा कि वे सहायता रोके जाने से बेहद निराश हैं। उन्होंने कहा कि मध्य अमेरिकी देशों में बच्चों और परिवारों की मदद के लिए फंड जरूरी है।

ल सल्वाडोर, ग्वाटेमाला और होंडुरास को इस साल की शुरुआत में अमेरिकी सहायता से वंचित कर दिया गया था, क्योंकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने दावा किया था कि वे अमेरिका में प्रवासियों के बढ़ते आगमन को रोकने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठ रहे हैं। अक्टूबर में प्रशासन ने कहा था कि वह तीन देशों में अमेरिकी सहायता को आंशिक रूप से फिर से शुरू करेगा, लेकिन एंगेल ने कहा कि यह कदम उठाने में बहुत देर हुई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *