पुलिस का ध्यान आकर्षित कर सकते हैं अयोध्या से जुड़े पोस्ट: डीजीपी - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

पुलिस का ध्यान आकर्षित कर सकते हैं अयोध्या से जुड़े पोस्ट: डीजीपी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओ.पी. सिंह ने कहा है कि अगर अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के चलते राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने में कठिनाई पैदा पैदा होती है, तो सोशल मीडिया प्लेटफार्मो पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत मामला दर्ज करने में संकोच नहीं किया जाएगा।

डीजीपी ने कहा, “हम पूरी तरह से तैयार हैं। कैसी भी स्थिति हो, किसी को भी कानून हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। हमारा खुफिया तंत्र (इंटेलिजेंस मशीनरी) तैयार है। जरूरत पड़ने पर कानून और व्यवस्था को बाधित करने का प्रयास करने वाले तत्वों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लागू किया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर अधिकारियों की एक टीम द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है और कोई भी आपत्तिजनक या भड़काऊ पोस्ट पर कार्रवाई की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की पीठ ने अयोध्या मामले की सुनवाई 40 दिनों के लिए निर्धारित की थी, और 16 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

इसे भी पढ़ें:- अयोध्या मामला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करें मुस्लिम

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं, उम्मीद की जा रही है कि इससे पहले शीर्ष न्यायालय का अयोध्या विवाद पर फैसला आ सकता है। सुनवाई के दौरान हिंदू पक्षकारों ने दलील दी थी कि पूरी 2.77 एकड़ जमीन भगवान राम की जन्मभूमि है, जबकि मुस्लिम पक्षकारों ने जमीन पर दावा करते हुए कहा कि 1528 में मस्जिद बनने के बाद से भूमि मुस्लिमों के पास रही है।

इसे भी पढ़ें:- अयोध्या पर न्यायालय के फैसले का सम्मान करेंगे : मुस्लिम धर्मगुरु

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
12 साल बाद अलग हुए महाभारत के कृष्ण उर्फ ​​नीतीश भारद्वाज और IAS अफसर पत्नी, दूसरी शादी में भी हुआ तलाक
12 साल बाद अलग हुए महाभारत के कृष्ण उर्फ ​​नीतीश भारद्वाज और IAS अफसर पत्नी, दूसरी शादी में भी हुआ तलाक