नकली प्रशांत किशोर बन नेताओं को लगाता था चूना, पुलिस ने किया गिरफ्तार
ताजा पोस्ट | देश | पंजाब | राजस्थान | हरियाणा| नया इंडिया| नकली प्रशांत किशोर बन नेताओं को लगाता था चूना, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नकली प्रशांत किशोर बन नेताओं को लगाता था चूना, पुलिस ने किया गिरफ्तार

New Delhi: देश में पिछले कुछ दशकों से जब भी चुनाव होते हैं तो पार्टियों को प्रशांत किशोर का ही नाम याद आता है. आज की यह सनसनीखेज खबर प्रशांत किशोर से सीधे तौर पर तो जुड़ी हुई नहीं है लेकिन कहीं ना कहीं उनकी लोकप्रियता का ही यह प्रभाव है कि लोग अब बड़े-बड़े नेताओं को उनके नाम पर ठग रहे है. ऐसा ही एक मामला पंजाब के सीएम के चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की आवाज निकाल कर कांग्रेसी नेताओं को ठगने की योजना तैयार कर रहे एक व्यक्ति का है. इस व्यक्ति का नाम गौरव शर्मा बताया जा रहा है. इसके विषय में प्राप्त जानकारी के अनुसार पता चला है कि इसके पहले भी वह कई नेताओं को ठगने का काम कर चुका है.

एक दो नहीं बल्कि 12 केस हैं दर्ज

पुलिस को जो जानकारी मिली है उसके अनुसार राजस्थान के पूर्व कांग्रेस विधायक रामचंद्र सराधना से भी आरोपी ने दो करोड़ की ठगी की थी. ऐसा नहीं है कि इसके पहले उसने एक या दो लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाया है बल्कि पुलिस की माने तो जो पिछले कुछ सालों से सक्रिय है और उसके खिलाफ एक दर्जन केस दर्ज हैं. पुलिस ने बताया कि इन सभी मामलों में सबसे चर्चित मामला राजस्थान के पूर्व विधायक रामचंद्र सराधना का है जिनसे आरोपी ने पार्टी का टिकट दिलाने के एवज में दो करोड़ रुपए में सौदा तय किया था और उसने 80 लाख एक बार में तथा 1.5 करोड़ दूसरे बार में लिए थे.

इसे भी पढें- Bihar : गोपालगंज जेल पहुंचा कोरोना, 2 दिनों में 139 कैदी कोरोना संक्रमित हुए

अन्य साथियों की तलाश में पुलिस

बता दें कि ठगी के मुख्य आरोपी गौरव शर्मा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अब गौरव से कड़ी पूछताछ कर रही है. इस संबंध में मिल रही जानकारी के अनुसार हरियाणा, राजस्थान और पंजाब पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन कर इस ठग को गिरफ्तार किया है. पुलिस अभी भी गौरव शर्मा के अन्य साथियों की तलाश में जुटी हुई है. पुलिस का कहना है कि गौरव शर्मा के पकड़े जाने के बाद से उसके अन्य साथी अंडर ग्राउंड हो गए हैं.

इसे भी पढें- Rajasthan Politics Crisis: फिर से न सुलग जाए सियासी चिंगारी, राजस्थान में गरमाने लगा राजनीतिक माहौल!

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});