नये साल में नये कलेवर के साथ यूपी में दस्तक देंगी प्रियंका

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले पंचायत चुनाव से पहले संगठन सृजन अभियान के जरिये ग्रामीण इलाकों में पैठ मजबूत करने जुटी कांग्रेस के पक्ष में माहौल तैयार करने के इरादे से पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा नये साल में वृहद संपर्क अभियान छेड़ सकती हैं।

पार्टी सूत्रों ने आज बताया कि श्रीमती वाड्रा जनवरी के दूसरे पखवाड़े में उत्तर प्रदेश में डेरा जमा सकती है। अपने संपर्क अभियान के तहत वह मंडल वार क्षेत्रों का दौरा करेंगी और सुबह दस बजे से शाम पांच बजे तक उस क्षेत्र में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक कर ग्रामीणों की समस्याये जानने के साथ क्षेत्र में पार्टी की स्थिति की समीक्षा करेंगी।

उन्होने बताया कि श्रीमती वाड्रा निर्धारित क्षेत्र में शाम छह से दस बजे के बीच चौपाल लगाकर ग्रामीणों से संवाद करेंगी जबकि वह रात्रि का भोजन किसी भी आम कार्यकर्ता अथवा साधारण ग्रामीण के घर पर करेंगी। श्रीमती वाड्रा का यह अभियान पंचायत चुनाव और उसके बाद वर्ष 20़22 में होने वाले विधानसभा चुनाव तक जारी रहेगा। सूत्रों ने बताया कि पार्टी के लिये हाल ही में हुये विधानसभा उपचुनाव के नतीजे उत्साहवर्धक रहे हैं।

इस चुनाव में पार्टी भले ही किसी सीट पर जीत दर्ज न कर सकी हो लेकिन बांगरमऊ और घाटमपुर विधानसभा क्षेत्र में जहां पार्टी दूसरे नम्बर पर रही वहीं सभी सात सीटों पर मत प्रतिशत में बढोत्तरी दर्ज की गयी। उन्होने बताया कि अब बारी पंचायत चुनाव की है जिसके लिये पार्टी संगठन को ग्रामीण स्तर पर मजबूत करने में लगी है। पार्टी के राष्ट्रीय और प्रदेश स्तर के नेता और पदाधिकारी लगातार ग्रामीणों इलाकों का भ्रमण कर रहे है और संवाद के जरिये पार्टी की नीतियों के बारे में ग्रामीणों को जानकारी दे रहे हैं।

पंचायत स्तर पर पार्टी काे मजबूत करने का यह अभियान जनवरी के मध्य तक जारी रहने की संभावना है जिसके बाद उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के दौरों की शुरूआत होगी। सूत्रों ने बताया कि श्रीमती वाड्रा के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और उस क्षेत्र के कद्दावर पदाधिकारी साथ रहेंगे जो चलाये गये अभियान की समीक्षा करने के साथ चौपाल लगाकर ग्रामीणों के साथ संवाद करेंगे। इस दौरान नये कृषि कानून के दूरगामी दुष्प्रभावों के बारे में किसानो को जागरूक किया जायेगा।

गौरतलब है कि कांग्रेस का संगठन सृजन अभियान दो अक्टूबर से जारी है। अभियान में अब तक ब्लॉक स्तर में कमेटियों का गठन किया जा चुका है जबकि न्याय, पंचायत, ग्राम सभा स्तर तक कमेटियाें के गठन का काम प्रगति पर है। ब्लॉक कमेटी में 25, न्याय पंचायत में 21 और ग्राम पंचायत में 15 सदस्य होंगे। इस अभियान की मानीटरिंग भी सीधे प्रदेश मुख्यालय स्तर पर की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares