Rajasthan Assembly by-election : कांग्रेस एवं भाजपा में सीधी टक्कर होने के आसार

Must Read

Jaipur । राजस्थान (Rajasthan) में 17 अप्रैल को तीन विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए चुनावी गतिविधियां जोर पकड़ने लगी हैं और राजसमंद, भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा एवं चुरु जिले में सुजानगढ़ तीन विधानसभा सीटों पर सत्तारुढ़ Congress एवं विपक्ष भारतीय जनता पार्टी (BJP) में सीधा मुकाबला होने के आसार हैं।

हालांकि पिछले विधानसभा चुनाव के समय से अस्तित्व में आई राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) भी यह तीनों चुनाव लड़ रही हैं और इससे दोनों ही प्रमुख दलों के प्रत्याशियों का चुनावी गणित प्रभावित हो सकता है। लेकिन माना जा रहा है कि मुख्य मुकाबला Congress एवं BJP में होने की संभावना लग रही है।

इसे भी पढ़ें :-Corona Update Bihar : बिहार सरकार ने बंद कर दी स्कूलें और कॉलेज, हाईलेवल मीटिंग के बाद सीएम ने किया फैसला

इन सीटों पर नामांकन वापसी के बाद कुल सताईस उम्मीदवार चुनाव लड़े रहे हैं। इनमें सहाड़ा सीट भाजपा के बागी एवं निर्दलीय प्रत्याशी लादूलाल पितलिया के नामांकन वापस ले लेने के बाद इस समय सबसे ज्यादा चर्चित बनी हुई हैं। सहाड़ा उपचुनाव के लिए आठ उम्मीदवार चुनाव मैदान में अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं उनमें भाजपा के पूर्व मंत्री डा रतनलाल जाट और कांग्रेस की दिवंगत एवं पूर्व विधायक कैलाश त्रिवेदी की पत्नी गायत्री त्रिवेदी चुनाव मैदान में हैं।

जबकि रालोपा ने बद्रीलाल जाट को चुनाव मैदान में उतारा है जो पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी रुप लाल जाट के भाई हैं। BJP एवं RLP के उम्मीदवार एक समुदाय के होने से जाट वोटों के बंटवारे का फायदा कांग्रेस को मिल सकता है वहीं BJP के लिए पितलिया को मना लेना बड़ी राहत हो सकती है।

इसे भी पढ़ें :-Up Panchayat Election : मिस इंडिया फाइनलिस्ट दीक्षा सिंह ने की पंचायत चुनाव लड़ने की घोषणा

पितलिया पिछले चुनाव में भी बागी होकर चुनाव लड़ा और 30 हजार 573 वोट लेने से BJP उम्मीदवार रुप लाल जाट चुनाव हार गए थे। सहाड़ा में RRP पार्टी ने ईश्वर चौधरी को अपना प्रत्याशी बनाया हैं जबकि चार निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं।

चूरू की सुजानगढ़ विधानसभा सीट पर Congress के पूर्व मंत्री एवं दिवंगत मास्टर भंवरलाल मेघवाल के पुत्र मनोज कुमार तथा भाजपा ने पूर्व मंत्री खेमाराम मेघवाल जबकि रालोपा ने सीताराम नायक को चुनाव मैदान में उतारा है और यहां भी कांग्रेस और भाजपा में सीधा मुकाबला रहने के आसार नजर आ रहे है। हालांकि RLP भी खूब जोर लगा रही हैं और इस चुनाव में वह कितना कामयाब होती हैं चुनाव परिणाम पर ही मालुम चल पायेगा।

इसे भी पढ़ें :-Bengal Assembly Elections 2021: BJP दफ्तर पर हमला और आगजनी के बाद कार्यकर्ताओं का हाईवे पर प्रदर्शन

सुजानगढ़ में ARJP ने दौलतराम को चुनाव मैदान में उतारा हैं। इनके अलावा पांच निर्दलीय भी चुनाव लड़े रहे हैं। राजसमंद में सबसे ज्यादा दस उम्मीदवार चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं उनमें Congress के तनसुख बोहरा एवं BJP की पूर्व मंत्री एवं दिवंगत किरण माहेश्वरी की पुत्री दीप्ति माहेश्वरी के बीच चुनावी टक्कर होने के आसार हैं। हालांकि RLP ने प्रहलाद खटाना को चुनाव मैदान में उतारा हैं वहीं भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) ने अमर सिंह कलुंधा और RRP ने हितेश शर्मा को अपना उम्मीदवार बनाया हैं।

राजसमंद से इनके अलावा पांच निर्दलीय भी चुनाव लड़ रहे हैं। शनिवार को नाम वापसी के बाद चुनावी तस्वीर साफ होने के बाद कांग्रेस, BJP सहित अन्य राजनीतिक दलों एवं निर्दलीयों ने अपना चुनाव प्रचार शुरु कर दिया हैं। सुजानगढ़ में कांग्रेस (Congress) प्रत्याशी मनोज कुमार मेघवाल के समर्थन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा सुजानगढ़ में जनसंपर्क किया और पार्टी के लोगों से मिलकर फीड बैक भी लिया है। इस मौके उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी भी मौजूद थे। उधर सहाड़ा में कांग्रेस की गायत्री देवी ने अपना प्रचार शुरु कर दिया हैं।

इसी तरह अन्य तीनों सीटों पर अन्य सभी प्रत्याशियों ने अपने चुनाव प्रचार एवं उसकी तैयारी शुरु कर दी गई हैं। उपचुनाव में कांग्रेस (Congress) की तरफ डोटासरा एवं अन्य नेता एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां एवं अन्य नेता अपने उम्मीदवारों के चुनाव जीतने के दावे कर रहे हैं वहीं RLP के संयोजक एवं नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल भी अपनी पार्टी के प्रत्याशियों की जीत के दावे कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें :-Rajasthan Vidhan Sabha Upchunav 2021: राजस्थान में कल साफ होगी चुनावी तस्वीर, परवान चढ़ेगा चुनावी रंग

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

Delhi में भयंकर आग से Rohingya शरणार्थियों की 53 झोपड़ियां जलकर खाक, जान बचाने इधर-उधर भागे लोग

नई दिल्ली | दिल्ली में आग (Fire in Delhi) लगने की बड़ी घटना सामने आई है। दक्षिणपूर्व दिल्ली के...

More Articles Like This