Rajasthan में Corona हो रहा नियंत्रण में, लेकिन जयपुर में मिले संक्रमितों ने फिर चौंकाया - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan में Corona हो रहा नियंत्रण में, लेकिन जयपुर में मिले संक्रमितों ने फिर चौंकाया

जयपुर। Rajasthan COVID Update: राजस्थान में रविवार को कोरोना के नए मामलों में ज्यादा गिरावट नहीं आई, साथ ही राजधानी जयपुर में पिछले दिनों की अपेक्षा रविवार को नए मामलों में फिर बढ़ोतरी देखी गई. राजस्थान में बीत 24 घंटे के दौरान 2298 नए संक्रमित सामने आए, जबकि इसी दौरान 66 मौतें दर्ज की गई है. जबकि इस दौरान 9636 मरीज रिकवर हुए. राज्य में 24 घंटों के दौरान एक्टिव केस 50 हजार से कम होकर 49224 रह गए हैं. ऐसे में कुल संक्रमितों (COVID Positive) की संख्या 938460 हो गई और कुल 8317 मौतें हो चुकी हैं. इसी के साथ राजस्थान में ब्लैक फंगस (Black Fungus) के मरीज मिलना जारी है. वहीं राज्य में वैक्सीनेशन को लेकर भी बड़ी समस्या सामने आ रही है. वैक्सीनेशन (COVID Vaccination) के लिए ऑनलाइन स्लाॅट बुक कराने वाले अगर नहीं पहुंच रहे हैं. ऐसे में टीकों के खराब होने का खतरा है.

राजधानी में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण के नए मामलों में आंषिक बढ़ोतरी हुई ओर रविवार को जयपुर 601 दर्ज किए गए. राजधानी जयपुर में मौतों का सिलसिला जारी है. यहां 24 घंटे के दौरान राज्य की सर्वाधिक 14 मौतें सामने आई है. इसके अलावा राज्य के उदयपुर 10, जोधपुर 5, हनुमानगढ़ 5, अजमेर 4, बीकानेर 4, अलवर 3, राजसमंद 3, बांसवाड़ा 2, भरतपुर 2, चित्तोडगढ़ 2, कोटा 2, पाली 2, सीकर 2, सिरोही 2, भीलवाड़ा 1, डूंगरपुर 1, झुंझुनूं 1, सवाईमाधोपुर 1 मौत कोरोना से दर्ज की गई है.

ये भी पढ़े:- Corona Update: रिकार्ड रफ्तार से घटे केस, लेकिन मरने वालों की संख्या कम नहीं

रविवार को जयपुर जिले में राजस्थान के सबसे ज्यादा 601 नए संक्रमित मिले. इसके अलावा राज्य में अलवर 203, जोधपुर 164, गंगानगर 148, उदयपुर 107, सीकर 105, हनुमानगढ़ 102 नए संक्रमित सामने आए हैं. वहीं राज्य के 26 जिलों में नए संक्रमितों की संख्या 100 से कम रही.

ये भी पढ़ें:- 1 जून के बाद कभी भी हो सकता है Rajasthan Board 10वीं और 12वीं की परीक्षा की तारीखों का ऐलान, शिक्षा मंत्री ने दिए ये संकेत

राज्य में वैक्सीनेशन को लेकर भी बड़ी समस्या सामने आ रही है जिससे कोरोना टीकों के खराब होने की स्थिति लगातार बनी हुई. कोरोना का टीका लगवाने के लिए पहले तो लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ा और अब राज्य सरकार की अव्यवस्थाओं के कारण लोगों को टीका नहीं लग पा रहा है. वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन स्लाॅट बुक कराने वाले अगर नहीं पहुंचते है तो ऑफलाइन किसे बुलाकर टीका लगाया जाए. स्वास्थ्य विभाग इस काम में अभी तक सफल नहीं हो पाया है. विभाग के पास ऐसी कोई सूची नहीं है जिससे ऑफलाइन लोगों को टीकाकरण के लिए बुलाया जा सके. ऐसे में टीकों के भी खराब होने की स्थिति बनी हुई है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *