Rajasthan HC का बड़ा फैसला- जब तक विवाह योग्य न्यूनतम आयु पूरी नहीं, तब तक Live-in Relationship में भी नहीं रह सकते - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan HC का बड़ा फैसला- जब तक विवाह योग्य न्यूनतम आयु पूरी नहीं, तब तक Live-in Relationship में भी नहीं रह सकते

जयपुर। राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) ने लिव इन रिलेशनशिप (Live-in Relationship) को लेकर एक बड़ा फैसला सुनाया है। जिसके अनुसार जब तक प्रेमी युगल विवाह योग्य न्यूनतम आयु पूरी नहीं कर लेते हैं तब तक वह लिव इन रिलेशनशिप में भी नहीं रह सकते हैं। इसी आधार पर राजस्थान हाईकोर्ट ने 21 वर्षीय युवती के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे 19 वर्षीय युवक और उसकी प्रेमिका को सुरक्षा दिलाने से साफ इनकार कर दिया है।

यह भी पढ़ें:- Rajasthan:पैंटालून के शोरूम को कैरी बैग के लिए पैसे मांगना पड़ा महंगा, उपभोक्ता फोरम ने लगा दिया जुर्माना

प्रेमी युगल ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा कि वे लिव इन रिलेशनशिप में रहते हैं। ऐसे में उन्हें अपने परिजनों से जान का खतरा है। इसलिए उन्हें पुलिस सुरक्षा दिलाई जाए। जिसका विरोध करते हुए राजकीय अधिवक्ता ने कहा कि समाज में अभी लिव इन रिलेशनशिप को मान्यता नहीं है। इसके अलावा याचिकाकर्ता युवती भले ही वैधानिक रूप से शादी की उम्र पूरी कर चुकी है, लेकिन युवक ने अभी अपनी वैधानिक उम्र पूरी नहीं की है वह सिर्फ 19 साल का ही है।

यह भी पढ़ें:- High Court में मुस्लिम समुदाय के लोगों में से जजों की नियुक्ति के लिए दर्ज हुई याचिका

इसलिए सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार जब वह विवाह ही नहीं कर सकता तो लिव इन रिलेशनशिप में भी रहने का अधिकारी भी नहीं हो सकता है। जिस पर न्यायाधीश पंकज भंडारी अदालत ने कहा कि युवक की उम्र महज 19 साल है। ऐसे में वह न्यूनतम वैवाहिक उम्र पूरी नहीं करते हैं। इसलिए वह लिव इन रिलेशनशिप में भी नहीं रह सकते हैं। ऐसे में कोर्ट ने प्रेमी युगल की याचिका खारिज कर उन्हें सुरक्षा दिलाने से इनकार कर दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राकेश टिकैत का यू टर्न, कहा- गोरखपुर से योगी आदित्यनाथ का जीतना जरूरी…
राकेश टिकैत का यू टर्न, कहा- गोरखपुर से योगी आदित्यनाथ का जीतना जरूरी…