nayaindia Rajasthan Unlock: राजस्थान में एक माह बाद शुरु होने जा रही रोडवेज की सुविधा, आज शाम रोडवेज प्रबंधक जारी कर सकते है निर्देश - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan Unlock: राजस्थान में एक माह बाद शुरु होने जा रही रोडवेज की सुविधा, आज शाम रोडवेज प्रबंधक जारी कर सकते है निर्देश

Jaipur: राजस्थान में कोरोना के मामलों में गिरावट होनी शुरु हो गई हैं। इसके साथ आज से अनलॉक की भी शुरुआत हो चुकी है। धीरे-धीरे सरकार अनलॉक करेगी उसके बाद यह परखा जाएगा कि कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी तो नहीं हो रही है। इसलिए हमें सतर्क रहना है इस बार हमें लापरवाह नहीं होना है। हमारी लापरवाही के कारण फिर से हम घरों में कैद हो सकते है और तीसरी लहर के आगमन का कारण भी बन सकते है। धीरे-धीरे जनजीवन भी पटरी पर आने की कोशिश कर रहा है। 10 जून से सार्वजनिक परिवहन का संचालन भी किया जाएगा जिसमें से रोडवेज भी शामिल है। 10 जून से रोडवेज अपने बेड़े की करीब 50 प्रतिशत बसों से संचालन शुरू कर सकता है। इसे लेकर मुख्यालय स्तर पर मंथन जारी है। आज देर शाम तक रोडवेज प्रबंधन इसे लेकर दिशा निर्देश जारी कर सकता है। राजस्थान सरकार ने कुछ चीजों में छूट का प्रावधान किया है। लेकिन यह छूट सभी चीजों में नहीं मिलेगी। इसलिए जब तक जरूरी ना हो घर से ना निकले।

also read: Rajasthan : पीएम मोदी के फ्री वैक्सीनेशन के एलान के बाद भाजपा विधायक ने सीएम गहलोत से मांगे 600 करोड़

बसों के रूटस पर हो रहा मंथन

रोडवेज बसों के संचालन को लेकर फिलहाल रोडवेज सीएमडी राजेश्वर सिंह प्रदेश के सभी चीफ मैनेजर्स के साथ बैठक ले रहे हैं। इस बैठक में रोडवेज के सभी विभागाध्यक्ष और जोनल मैनेजर्स भी शामिल हैं। बैठक में बसों के संचालन, रूट्स और बसों की स्थिति को लेकर चर्चा की जा रही है। माना यह जा रहा है कि 10 जून से प्रदेश में संचालित होने वाली बसों की कनेक्टिविटी इस तरह की होगी कि प्रत्येक जिला एक दूसरे से कनेक्ट हो सके। हालांकि फिलहाल 50 प्रतिशत बसों से ही संचालन शुरू किया जाएगा।

एक माह बंद रही बसें

कोरोना के मामले बढ़ते देखकर राज्य सरकार ने गत 10 मई से रोडवेज बसों का संचालन रोक दिया था।  उसके ठीक एक माह बाद अब फिर से बसों का संचालन शुरू होगा। लगभग पूरे मई माह में लॉकडाउन का सिलसिला ज़ारी रहा था। हालांकि कोरोना के मामले बढ़ने से यात्रीभार में काफी कमी आ गई थी। 8 मई के संचालन पर नजर डाले तो उस दिन रोडवेज की 1862 बसों ने 1852 रूट्स पर 4,269 फेरे किए थे। वहीं इस दिन रोडवेज की बसों में 3 लाख 13 हजार 976 यात्रियों ने यात्रा की थी। उससे रोडवेज को करीब 1.43 करोड़ की आय हुई थी। लॉकडाउन के कारण बसों और रेल को अत्यधिक नुकसान झेलना पड़ा है। इसके बाद जब लॉकडाउन खोला गया तो जनता की लापरवाही के कारण फिर से बसों को बंद किया गया।

आज शाम तक तय हो जायेगा

रोडवेज बसों का संचालन किस तरह से किया जायेगा। इसके लिये क्या-क्या पैरामीटर्स अपनाये जायेंगे इस पर विस्तृत चर्चा की जा रही है। बताया जा रहा है कि आज शाम तक संभवतया सबकुछ फाइनल कर लिया जायेगा। उसके बाद योजना के अनुसार उसे अंतिन रूप दिया जाएगा। इस पर रोडवेज के सीएमडी विचार कर रहे है और साथ ही रूटस पर भी चर्चा कर रहे है कि बसों का रूटस किस प्रकार रखा जाए। एक माह बाद बसों का संचालन होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − four =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
परिनिर्वाण दिवस पर बाबा साहब को खड़गे-राहुल की विनम्र श्रद्धांजलि
परिनिर्वाण दिवस पर बाबा साहब को खड़गे-राहुल की विनम्र श्रद्धांजलि