Rajnath singh military talks राजनाथ ने सैन्य वार्ता को ऐतिहासिक बताया
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Rajnath singh military talks राजनाथ ने सैन्य वार्ता को ऐतिहासिक बताया

राजनाथ ने सैन्य वार्ता को ऐतिहासिक बताया

Rajnath singh military talks

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को दोपक्षीय वार्ता से इतर सोमवार को भारत और रूस के बीच टू प्लस टू की वार्ता भी हुई। भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने रूसी समकक्षों से वार्ता की। राजनाथ और रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू के बीच सैन्य व रक्षा क्षेत्र को लेकर अहम वार्ता हुई और चार समझौतों पर दस्तखत भी हुए। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस सैन्य वार्ता को ऐतिहासिक बताया।

Read also महाराष्ट्र में निकाय चुनावों में आरक्षण पर रोक

दोनों देशों के बीच हुई पहली टू प्लस टू वार्ता से पहले सैन्य और रक्षा क्षेत्र से जुड़े चार समझौतों पर दस्तखत किए गए। इनमें अमेठी के कोरवा में भारत और रूस की साझेदारी में छह लाख से अधिक एके-203 राइफलें बनाने का समझौता शामिल है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत-रूस की इस रणनीतिक वार्ता को दो खास साझेदार देशों के लिए ऐतिहासिक करार दिया और चीन का नाम लिए बिना भारत की उत्तरी सीमा पर उसकी पूरी तरह अकारण आक्रामकता व असाधारण सैन्यीकरण की चुनौतियों का जिक्र किया।

राजनाथ सिंह ने कहा कि अपनी मजबूत राजनीतिक इच्छाशक्ति और प्रतिकूलताओं से निपटने की देश की अंदरूनी क्षमता के बल पर भारत इन चुनौतियों का मुकाबला करने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि इन परिस्थितियों में भारत को ऐसे साझेदारों की जरूरत है जो उसकी अपेक्षाओं को लेकर संवेदनशील हों। उन्होंने कहा कि भारत की बढ़ी रक्षा जरूरतें सैन्य और सैन्य तकनीक क्षेत्र में भारत-रूस के बीच और गहरे सहयोग का रास्ता खोल रही हैं।

Read also Maharashtra में Omicron का आतंक! अब Mumbai में मिले 2 पाॅजिटिव, राज्य में कुल संख्या हुई 10

रक्षा मंत्री ने कहा कि तमाम चुनौतियों के बावजूद भारत और रूस के बीच रक्षा सहयोग हाल के समय में असाधारण रूप से बढ़ा है। इस संदर्भ में उन्होंने अपनी दो बार की मास्को और एक बार दुशाम्बे की यात्रा का जिक्र किया। साथ ही दूसरे विश्व युद्ध की स्मृति से जुड़े समारोह में रूसी व भारतीय सैनिकों के कंधे से कंधा मिलाकर परेड में शामिल होने की हाल की घटना का भी जिक्र किया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
भक्ति राजनीति की हानियां!
भक्ति राजनीति की हानियां!