nayaindia Rajasthan : दुष्कर्म के आरोपी ने जेल से निकलने के बाद एकतरफा प्यार में विधवा की कर दी हत्या, बहन पर भी किये कई वार... - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan : दुष्कर्म के आरोपी ने जेल से निकलने के बाद एकतरफा प्यार में विधवा की कर दी हत्या, बहन पर भी किये कई वार…

सिरोही | देश में महिलाओं के खिलाफ अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. कई बार देखा जाता है कि देश की कानून व्यवस्था में कमी का कारण अपराधियों को मौका मिल जाता है. ऐसा एक मामला राजस्थान के सिरोही से सुनने को मिला है. जहां एक दुष्कर्म के आरोपी ने जेल से जमानत मिलकर छूट कर आने के बाद एक और बड़ी वारदात को अंजाम दे दिया है. सिरोही के शरद टोंक में रहने वाली एक विधवा महिला और आशा सहयोगिनी लक्ष्मी की हत्या कर दी. यह मामला एक तरफा प्यार का बताया जा रहा है. इतना ही नहीं आरोपी हत्यारे ने लक्ष्मी की पहनकर भी चाकू से वार किया लेकिन किसी तरह उसकी बहन ने वहां से भाग कर अपनी जान बचा ली.

महिलाओं के कपड़े पहन कर घर में घुसा आरोपी

पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि आरोपी कई वर्षों से विधवा लक्ष्मी के साथ संबंध रखना चाहता था. लेकिन इसके लिए लक्ष्मी कभी भी तैयार नहीं थी. उसके बाद दुष्कर्म के आरोप में वह जेल चला गया लेकिन जेल के आने के बाद फिर से विधवा लक्ष्मी के पीछे पड़ गया. जब उसे कुछ नहीं सूझा तो वो एक तरफा प्यार में गुस्से से पागल हो गया और रात के अंधेरे में महिलाओं के कपड़े पहनकर आशा सहयोगिनी लक्ष्मी के घर घुस गया. घर पर खाना बना रही लक्ष्मी के शरीर में आरोपी ने 3-4 वार कर उसकी हत्या कर दी. आवाज सुनकर जब दूसरे कमरे में सो रही लक्ष्मी की बहन कमरे में आई तो उस पर भी आरोपी ने चाकुओं से कई वार किए. लेकिन उसने किसी तरह वहां से बचकर अपनी जान बचा ली.

इसे भी पढ़ें-Rajasthan: पति पत्नी बनने का ढोंगकर लगाया कई लोगों को लाखों का चूना…

13 गांव के लोगों ने थाने के बाहर किया प्रदर्शन

मामले की सूचना जैसे ही स्थानीय लोगों को मिली तो लोगों का गुस्सा पुलिस प्रशासन पर फूट पड़ा. पुलिस को शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने में भी काफी मशक्कत करनी पड़ी. लोगों का कहना था कि आरोपी को हमारे हवाले कर दो. प्रदर्शन करने में 13 गांव के लोग शामिल हुए. घटना की जानकारी एसपी धर्मेंद्र सिंह को मिलते हैं उन्होंने लोगों को समझा-बुझाकर वापस भेजा. आसपास के लोगों ने बताया कि उसने पहले भी उसी महिला के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया था जिसमें सफल ना होने पर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई थी. लेकिन कुछ दिन पहले ही पर जेल से छूट कर आया था जिसके बाद उसने एक तरफा प्यार में लक्ष्मी की हत्या कर दी.

इसे भी पढ़ें-केदारनाथ मंदिर के बाहर बैठकर क्यों आंदोलन कर रहे है पुरोहित, क्या मांगे है उनकी सीएम रावत से..

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 − one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
दिल्लीवासियों को केंद्र की योजनाओं से मिलेगा फायदा : पुरी
दिल्लीवासियों को केंद्र की योजनाओं से मिलेगा फायदा : पुरी