समाजवादी पार्टी किसान आंदोलन की समर्थक : अखिलेश

जौनपुर। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज कहा कि भाजपा सरकार किसानों की तबाही का जश्न मना रही है , जबकि समाजवादी पार्टी किसान आंदोलन का समर्थन करती है।

यादव ने यहां निगोह के पास स्थित श्री राम पीजी कॉलेज आदमपुर में प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री स्वर्गीय पारसनाथ यादव के जन्मदिन पर आयोजित समारोह में भाग लेने के पश्चात कहा कि भाजपा सरकार ने छह वर्षों में किसानों को फूटी कौड़ी का लाभ नहीं पहुंचाया। उसकी न तो आय दुगनी हुई, नहीं लागत का ड्योढ़ा मूल्य मिला।

एमएसपी देना तो दूर की बात भाजपा सरकार ने किसानों के पास जो जमा पूंजी है उसे भी लूटने का इंतजाम कर लिया है। किसानों के सिर पर खेती जमीन-जायदाद जाने का खतरा भी मंडरा रहा है

पूर्व मुख्यमंत्री ने पारसनाथ यादव को सपा के संस्थापक दल के सदस्य और पूर्वांचल के कद्दावर नेता की संज्ञा दी और कहा कि वे बहादुर और साहसी नेता थे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार बताए कि गरीब जनता को मुफ्त वैक्सीन लगेगी या पैसा देना होगा । उन्होंने कहा कि महामारी में परदेश से लाने के लिए प्रदेश सरकार ने कुछ नही किया, मजदूर गुजरात, महाराष्ट्र, से साईकल पैदल ही चल दिये जबकि सरकार के पास 90 हजार बस है। अगर वही बसे सरकार चला देती तो रास्ते मे लोग नही मरते।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि नोट बंदी से काला धन आया नही आया। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुये कहा कि प्रदेश में भाजपा के कुशासन के चलते अपराधियों को खुली छूट मिली हुई है। मुख्यमंत्री की कागजी सख्ती और बड़बोलापन लोगों की जिंदगी पर भारी पड़ रही है। महिलाओं, बच्चियों से छेड़खानी, दुष्कर्म और हत्या की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। महिलाओं की सुरक्षा पर असंवेदनशील और असफल भाजपा सरकार में उत्तर प्रदेश दुराचार प्रदेश बन गया है। सरेआम राजधानी में भी गोलियां चल रही हैं। दहशत के इस माहौल में भी मुख्यमंत्री ठोक दो और राम नाम सत्य कर दो का जाप अलाप रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares