पतंग उड़ाने के शौकीन एवं राहगीर सुरक्षा का रखे विशेष ध्यान: गहलोत

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मकर संक्रांति के अवसर पर पतंग उड़ाते समय एवं सड़क पर पैदल या दोपहिया वाहन से चलते समय सुरक्षा का विशेष ध्यान रखने की अपील की है।

गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि पतंग उड़ाने के दौरान छत से गिरने और मांझे से दुर्घटना होने के मामले सामने आए हैं।

पतंग उड़ाने के सभी शौकीन अपनी और दूसरों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखें। प्रतिबंधित चाइनीज मांझे का इस्तेमाल करने पर कार्रवाई की जाएगी। आमजन भी सड़क पर पैदल या दोपहिया वाहन से चलते समय सतर्कता बरतें।

उन्होंने कहा कि स्कूटर और बाइक पर पूरा कवर हैलमेट लगाएं एवं गले को मफलर या स्कार्फ से अच्छी तरह ढंक लें। बच्चों को दोपहिया वाहन पर आगे ना बिठाएं एवं वाहन धीमी रफ्तार में चलाएं। पतंग उड़ाते समय छत की सीमा का ध्यान रखें एवं सुबह छह से आठ और शाम के पांच से सात बजे के बीच पतंग ना उड़ाएं।

उल्लेखनीय है कि मकर संक्रांति पर पतंग उड़ाने की परपंरा के तहत जयपुर में इस पर्व से पन्द्रह दिन पहले ही लोग पतंग उड़ाना शुरु कर देते हैं और 14 जनवरी को पतंगबाजी का उल्लास चरम सीमा पर पहुंच जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares