गोरखपुर में घर-घर पहुंच रही स्टेशनरी, प्लंबर और इलेक्ट्रिशियन - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

गोरखपुर में घर-घर पहुंच रही स्टेशनरी, प्लंबर और इलेक्ट्रिशियन

गोरखपुर। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोगों को पूर्णबंदी का पालन करना है लेकिन इस दौरान घर की जरूरतें पूरी करना भी चुनौती है। गोरखपुर प्रशासन ने इसका हल खोजा और शहर में लोगों को घर बैठे सुविधा पहुंचानी शुरू कर दी।

जिला प्रशासन ने ऑनलाइन व्यवस्था शुरू की, जिसमें शहर की स्टेशनरी की दुकान से लेकर प्लम्बर और इलेक्ट्रिशियन तक का नम्बर है।

जरूरत पड़ने पर लोग सम्पर्क करते हैं और उनके यहां डिलीवरी हो जाती है। इस मॉडल की केन्द्र और दूसरे राज्यों की सरकारों ने काफी तारीफ की है। कई जगह इसे लागू करने की तकनीक भी पूछी जा रही है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी के गृहजनपद गोरखपुर में बच्चों की पढ़ाई बाधित न हो इसके लिए ऑनलाइन माध्यम से अभी तक 22 हजार से ज्यादा लोगों तक कापी किताब और अन्य स्टेशनरी समान पहुंचा है।

पूर्णतया बंदी घोषित होने के बाद लोगों के सामने जरूरी सामानों का संकट गहराने लगा, तब गोरखपुर में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सदर गौरव सिंह सोगरवाल की अनूठी पहल ने जरूरी सामानों की आपूर्ति करवाकर व्यवस्था को सुधार दिया। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने 10 ऑनलाइन पोर्टल चलाकर लोगों के घरों तक खाद्यान्न की डिलीवरी सुनिश्चित करा दी।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सदर गौरव सिंह सोगरवाल ने बताया, लॉकडाउन 2 जब शुरू हुआ तो लोगों के बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो गयी। उनके सामने बच्चों की स्टेशनरी की दिक्कत थी वे लोग हमें फोन कर रहे थे। उसी को देखते हुए हमने स्टेशनरी और किताबों को उपलब्ध कराने के लिए शहर के 116 सीबीएसई, 16 आईसीएसई, 153 माध्यमिक शिक्षा के स्कूलों को जोड़ा और 14 डिस्ट्रीब्यूटर और पोर्टल से ताल-मेल कर सभी 8 जोन को मैप करा दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});