सबूत बनी एएसआई की रिपोर्ट अब बनेगी किताब

नई दिल्ली। केंद्रीय सांस्कृतिक व पर्यटन मंत्री ने शनिवार को कहा कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की रिपोर्ट, जिसका इस्तेमाल अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट में हिंदू पक्ष की तरफ से साक्ष्य के रूप में किया गया, उसे अब आम जनता के लिए किताब के रूप में प्रकाशित किया जाएगा।

केंद्रीय सांस्कृतिक व पर्यटन मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने शनिवार को कहा हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते है, एएसआई रिपोर्ट जिसका इस्तेमाल साक्ष्य के तौर पर अदालत में किया गया, वह जल्द ही आम जनता के लिए किताब के रूप में आएगी। यह बयान सुप्रीम कोर्ट द्वारा केंद्र को विवादित स्थल पर राम मंदिर के निर्माण के लिए तीन महीने के अंदर एक ट्रस्ट बनाने के निर्देश देने के बाद आया है।

इसे भी पढ़ें : बाबरी मस्जिद विध्वंस के दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिले : माकपा

कोर्ट ने सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या में किसी दूसरी जगह पर मस्जिद के निर्माण के लिए पांच एकड़ जमीन दिए जाने का भी आदेश दिया। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने सर्वसम्मति से 1045 पेज का फैसला सुनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares