ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Supreme Court Amrapali group कोर्ट ने आम्रपाली समूह के पूर्व निदेशक की

कोर्ट ने आम्रपाली समूह के पूर्व निदेशक की जमानत याचिका खारिज की

CBI ED ordinance challenged

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग (money laundering) के एक मामले में आम्रपाली समूह के पूर्व निदेशक शिव प्रिय की याचिका खारिज कर दी। कोर्ट का कहना है कि स्वास्थ्य कारणों के आधार पर दाखिल की गई इस याचिका में मेडिकल इमरजेंसी जैसा मामला नहीं है। 

इसे भी पढें – Ananya Pandey के जवाबों से संतुष्ट नहीं NCB, कल 11 बजे फिर होगी पूछताछ…

गौरतलब है कि अदालत ने अपने 23 जुलाई 2019 के फैसले में आम्रपाली समूह का पंजीकरण रद्द कर दिया था और कहा था कि आम्रपाली की लंबित परियोजनाओं को एनबीसीसी पूरा करेगी और समूह की लीज भी निरस्त कर दी थी। इस मामले में आम्रपाली समूह के पूर्व निदेशक अनिल कुमार शर्मा, शिव प्रिय और अजय कुमार जेल में बंद हैं। उनके खिलाफ घर खरीदने वालों के पैसे का कथित तौर पर दुरुपयोग करने के आरोप में कई मामले दर्ज हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग

देश

विदेश

खेल की दुनिया

फिल्मी दुनिया

लाइफ स्टाइल

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
दुनिया में कोरोना के नए वैरिएंट की दहशत के बीच भारत में 24 घंटे में कोरोना से 465 मौतें, अब स्टूडेंट्स मिल रहे पाॅजिटिव