शिक्षक घर से काम करें छात्र ऑनलाइन पढ़ें

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए कॉलेज एवम् विश्वविद्यालय के शिक्षकों को 31 मार्च तक घर से ही काम करने तथा स्कूली एवम् कॉलेज के छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने की अपील की है और होस्टल में रह रहे छात्रों विशेषकर विदेशी छात्रों को होस्टल में रहने देने का निर्देश दिया है।

मानव संसाधन मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने राज्यों के मुख्य सचिवों तथा विश्व विद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, राष्ट्रीय टेस्टिंग एजेंसी, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय एवम् अन्य शिक्षण संस्थाओं को पत्र लिखकर अपील की है। खरे ने पत्र में लिखा है कि कोरोना के मद्देनजर स्कूल और कॉलेजों को 31 मॉर्च तक बंद कर दिया गया है इसलिए कॉलेज के शिक्षकों से अपील की जाती है कि वे छात्रों को ऑनलाइन पढ़ाए और उत्तर पुस्तिकाएं घर पर ही जांचें।

घर पर शोध कार्य करें लेख आदि लिखें। पत्र में कहा गया है कि राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीआरटी), केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) और राष्ट्रीय मुक्त ज्ञान कोष ने डिजिटल पाठ्य सामग्रियों को बड़ी संख्या में तैयार किया है और वे गूगल प्ले स्टोर तथा उन संस्थाओं की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।

इसलिए छात्र उन्हें डाउनलोड कर पढ़ सकते हैं। पत्र के अनुसार दीक्षा, स्वयं और ई-पाठशाला तथा अन्य पोर्टलों पर अनेक वीडियो और ऑडियो तथा ई-पाठ्य सामग्री उपलब्ध हैं। इसके अलावा कई शैक्षणिक चैनल भी है जिनसे छात्र 24 घंटे पढ़ सकते हैं। कॉलेज के शिक्षकों से अपील की गई है कि वे इन छुट्टियों में अगले सेमेस्टर के लिए पाठ्य सामग्री और नए तरह के प्रश्न पत्र भी तैयार करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares